मुंबई की 140 इमारतों में फायर सेफ्टी सिस्टम नहीं

मुंबई

करी रोड में आग लगने के बाद मनपा प्रशासन की नींद खुली है। मनपा अतिरिक्त आयुक्त अश्विनी भिड़े ने कहा कि मनपा के पास आग बुझाने की विश्वस्तरीय आधुनिक तकनीक उपलब्ध है। लेकिन मुंबई की हाइराइज इमारतों में आग बुझाने की लिमिट है। ऐसे में इमारतों में आग से बचाव करने के लिए उपकरण लगाने की जिम्मेदारी इमारत मालिक की है। इसके बावजूद भी आग बुझाने का काम फायर ब्रिगेड करता है। 

भिड़े ने बताया कि मुंबई की 140 इमारतों में फायर सेफ्टी सिस्टम नहीं है। जनवरी 2019 से सितंबर 2021 के बीच 1526 इमारतों की जांच की गई। जिसके बाद 327 इमारतों को नोटिस दी गई है।  जिसमें से 78 इमारतों में आवश्यक फायर सेफ्टी सिस्टम लगाया गया. 109 इमारतों में अग्नि सुरक्षा उपकरण लगाए जाने का काम शुरू है। बाकी 140 इमारतों में अग्नि सुरक्षा राम भरोसे है। जबकि 3 लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।  

प्रत्येक बिल्डिंग को यूनिक आईडी 

भिड़े ने बताया कि मुंबई की इमारतों को यूनिक आईडी दी जाएगी। इसके लिए ऐप बनाया जा रहा है। इससे बिल्डिंग के काम की पूरी जानकारी एक जगह उपलब्ध होगी। इस ऐप पर हर छह महीने में इमारत की फायर ऑडिट कर रिपोर्ट अपलोड करना अनिवार्य किया जाएगा। तीन वार्डों में प्रायोगिक तौर पर यह उपक्रम शुरू किया गया है। अब तक 2170 इमारतों का फायर सेफ्टी सर्टिफिकेट बीएमसी को उपलब्ध कराया गया है। जिन इमारतों में समय से फायर सेफ्टी सिस्टम नहीं लगाया गया है, उनकी पानी व बिजली आपूर्ति बंद करने की कार्रवाई शुरू है। पिछले 3 से 4 महीने के भीतर मुंबई की 52 हाइराइज इमारतों में मॉकड्रिल किया गया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget