8,984 लोगों को मिला सपनों का घर

म्हाडा के कोकण मंडल की निकली लॉटरी ।  इस साल रिकाॅर्ड लोगों ने किया था आवेदन


ठाणे

गुरुवार को ठाणे, नवी मुंबई सहित पूरे कोकण मंडल में बने 8984 घरों की ठाणे स्थित डॉ. काशीनाथ घाणेकर नाट्यगृह में आवास मंत्री जितेंद्र आव्हाड की मौजूदगी में घरों की लॉटरी निकाली गई। लॉटरी में अपना एक घर होने का सपना देखने वाले 8984 परिवारों को उनके सपनों का आशियाना मिल गया। घरों की लॉटरी जैसे-जैसे निकल रही थी, नाम आने पर लोगों के चेहरों पर ख़ुशी साफ दिखाई दे रही थी जबकि घर न पाने वाले लोगों में मायूसी भी साफ़ झलक रही थी। इस साल 8984 घरों के लिए सबसे ज्यादा 2 लाख 46 हजार 650 आवेदन दाखिल किए गए थे, जिसमें ठाणे जिले से 2 लाख 7 हजार लोगों ने 812 घरों के लिए आवेदन किया था। यह आवेदन कल्याण और (म्हाडा घटक) मीरा रोड, विरार, नवी मुंबई, सिंधुदुर्ग और ठाणे जिलों में विभिन्न आवास परियोजनाओं के तहत निर्मित 8,984 फ्लैटों के लिए आए थे।

दशहरे के शुभ अवसर पर नागरिकों को उनके असली घर के शुभ उपहार को जानने के लिए तुतारी की ध्वनि पर लॉटरी निकाली गई। इसका ऑनलाइन आयोजन किया गया था, जिसे 32 देशों के नागरिक ऑनलाइन देख रहे थे। इस अवसर पर गृह मंत्री जितेंद्र आव्हाड, ठाणे जिला पालकमंत्री एकनाथ शिंदे, केंद्रीय पंचायत राज्य मंत्री कपिल पाटिल, विधायक रवींद्र फाटक, मुंबई बिल्डिंग रिहैबिलिटेशन बोर्ड के अध्यक्ष विनोद घोसालकर और मराठी फिल्म अभिनेत्री सुप्रिया पाठारे सहित अन्य मौजूद थे। लॉटरी का उद्घाटन आवास मंत्री डॉ. जितेंद्र आव्हाड ने किया। लॉटरी के पहले ड्रॉ में 100 घरों का समावेश था। चांदोरकर इस ड्रॉ के पहले विजेता बने हैं। पहला ड्रॉ कल्याण के सिरधौनी के लिए हुआ। उसके बाद पालक मंत्री एकनाथ शिंदे और केंद्रीय राज्य मंत्री कपिल पाटिल के हाथों लॉटरी निकाली गई।

मनपा दे म्हाडा को विकास के लिए जगह

गृह निर्माण मंत्री ने ठाणे समेत अन्य मनपा को म्हाडा को जमीन उपलब्ध कराने के लिए कहा है। आव्हाड ने कहा कि ठाणे, बदलापुर, अंबरनाथ समेत अन्य स्थान पर जगह उपलब्ध होने पर म्हाडा इमारत का निर्माण करने को तैयार है। घर के साथ रोजगार के निर्माण पर भी विभाग काम कर रहा है। इसके तहत वाशी की झोपड़पट्टी के स्थान पर घरों के साथ आईटी सेक्टर को बढ़ावा देने की योजना पर काम किया जा रहा है. ठाणे के वर्तक नगर में 1200 घरों में निर्माण किया जा रहा है। यहां करीब 400 घर पुलिसकर्मियों को दिए जायेंगे। साथ ही गोरेगांव में 140 एकड के भूखंड पर म्हाडा घर तैयार करने की योजना पर काम कर रही है।

केंद्रीय मंत्री की फटकार

लॉटरी कार्यक्रम में शामिल हुए केंद्रीय पंचायत राज्य मंत्री कपिल पाटिल ने कार्यक्रम स्थल पर लगे बैनर पर केंद्र सरकार का जिक्र नहीं होने पर म्हाडा अधिकारियों को फटकार लगाई। पाटिल ने कहा कि लॉटरी में शामिल 8,984 घरों में से 6000 घरों का निर्माण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत किया गया है।

नौकरी के साथ घर भी मिला

धुले जिले के मूल निवासी संतोष गायकवाड़ ठाणे शहर पुलिस में हैं। इस समय वह कसारवडवली पुलिस स्टेशन में कार्यरत हैं। गायकवाड़ ने घर की आस में म्हाडा की लॉटरी में किस्मत आजमाया, जिसमें उन्हें सफलता मिली। उनका कहना है कि ठाणे जिले ने उन्हें नौकरी के साथ-साथ घर भी दिया है. परिवार को माता-पिता के साथ रहने का सही घर मिल गया है। मैं इस घर को पाकर बहुत खुश हूं जिसे शब्दों में बयां नहीं कर सकता।

13 साल बाद मिला घर

लॉटरी में घर पाने वाले सुनील जाधव ने कहा कि 2008 से म्हाडा की लॉटरी में भाग ले रहा हूं, लॉटरी में नाम नहीं आने से थोडा निराश जरूर होता है, लेकिन हिम्मत नहीं हारा और आज घर मिल गया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget