डॉन सुरेश पुजारी फिलीपींस में गिरफ्तार

रवि पुजारी से अलग बनाया था अपना गैंग


मुंबई 

अंडरवर्ल्ड डॉन सुरेश पुजारी को फिलीपींस में गिरफ्तार किया गया है। मुंबई क्राइम ब्रांच  के सूत्रों ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है। सूत्रों के अनुसार, फिलीपींस की तरफ से भारत सरकार को इस संबंध में सूचना दे दी गई है। अब उसके भारत डिपोर्ट करने की कोशिशें चल रही हैं। सूचना के अनुसार, उसे 15 अक्टूबर को पकड़ा गया। मुंबई पुलिस, सीबीआई के अलावा वह एफबीआई के भी रडार पर था।

सुरेश पुजारी पहले डॉन रवि पुजारी के साथ काम करता था। करीब दस साल पहले वह रवि पुजारी से अलग हो गया था और खुद का गैंग बना लिया था। नवी मुंबई, मुंबई और ठाणे में डांस बार मालिकों को वह उगाही के लिए नियमित फोन करता था। उगाही न देने वालों पर गोलियां चलवाता था। साल, 2018 में उसके शूटरों ने कल्याण–भिवंडी हाईवे पर के. एन. पार्क होटल को निशाना बनाते हुए गोलियां चलाई थीं। एक गोली रिसेप्शन पर बैठे एक कर्मचारी को लगी भी थी।

2007 में भारत से भागा था

सुरेश पुजारी मूल रूप से उल्लासनगर का रहने वाला है। साल, 2007 में वह भारत से भागा था। वह अलग-अलग देशों में सुरेश पुजारी के अलावा सुरेश पुरी और सतीश पई के नाम से भी रह रहा था। स्वाभाविक है, उसने इन नामों से फर्जी पासपोर्ट भी बनवाए थे।

पुजारी गैंग के कई शूटर हुए थे गिरफ्तार

उसके बाद सुरेश पुजारी ने इस होटल के मालिक को फिर फोन किया था और 25 लाख रुपए का हफ्ता मांगा था। उस केस में मुंबई क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर अजय सावंत और सचिन कदम ने सुरेश पुजारी गैंग के करीब आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया था। उसके बाद भी इस डॉन के कई लोग अलग-अलग केसों में पकड़े गए और उनके जरिए विदेश में वह कहां है, उसे ट्रैक किए जाने की कोशिशें चलती रहीं। सूत्रों के अनुसार, सुरेश पुजारी के बारे में मुंबई पुलिस को पता चला कि वह 21 सितंबर से फिलीपींस में हैं। उसके बाद केंद्रीय जांच एजेंसियों के जरिए इंटरपोल को अलर्ट किया गया। सुरेश पुजारी से जुड़ी जारी सूचनाएं इंटरपोल से शेयर की गईं। उसी में वह पकड़ा गया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget