पंजाब के खिलाफ चेन्नई का पलड़ा भारी


दुबई

अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच बनाने की कवायद में लगा चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग में गुरुवार को यहां पंजाब किंग्स के खिलाफ होने वाले मैच में मजबूत दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा। महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम का लगातार दो हार के बावजूद पंजाब पर पलड़ा भारी नजर आता है जो प्लेऑफ की दौड़ से बाहर होने के कगार पर है। पिछले साल के लचर प्रदर्शन को भुलाकर इस वर्ष शानदार वापसी करने वाली चेन्नई की टीम ने यूएई चरण में अच्छा प्रदर्शन किया है और उसे हराना आसान नहीं है।

चेन्नई के बल्लेबाज अच्छी लय में हैं विशेषकर ऋतुराज गायकवाड़। उसके बल्लेबाज इस प्रदर्शन को जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। गायकवाड़ और दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस ने शीर्ष क्रम में अच्छा खेल दिखाया है, जबकि अंबाती रायुडू ने मध्यक्रम में उपयोगी योगदान दिया है। मोईन अली ने गेंदबाजी और बल्लेबाजी में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन सुरेश रैना और धोनी की खराब फॉर्म चेन्नई के लिए चिंता का सबब है। रविंद्र जडेजा ने फिर से एक ऑलराउंडर के तौर पर अपनी उपयोगिता साबित की है और उपयोगी योगदान दिया है। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में हालांकि चेन्नई के गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। उन्हें टूर्नामेंट के महत्वपूर्ण चरण से पहले जल्द ही अपनी गलतियों में सुधार करना होगा। दीपक चाहर ने अब तक 12 विकेट लिए हैं और उन्होंने कुछ अवसरों पर टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी है। शार्दुल ठाकुर के नाम पर 15 विकेट दर्ज हैं और वह अपनी इस फॉर्म को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे। जोश हेजलवुड और ड्वेन ब्रावो ने अपने कौशल का अच्छा नमूना पेश किया है, जबकि जडेजा ने हर भूमिका अच्छी तरह से निभायी है। चोट के कारण सैम कुरेन बाकी टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं लेकिन चेन्नई अधिक चिंतित नहीं है, क्योंकि ब्रावो अच्छी लय में हैं। जहां तक पंजाब की बात है तो उसकी टीम निरंतर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायी है। के एल राहुल की अगुवाई वाली टीम 10 अंक लेकर छठें स्थान पर है। राहुल ने अब तक 528 रन बनाए हैं, जबकि कर्नाटक के उनके साथी मयंक अग्रवाल ने 429 रन का योगदान दिया, लेकिन उनके अन्य बल्लेबाज नहीं चल पाए हैं जिसका नुकसान पंजाब को उठाना पड़ रहा है। गेंदबाजी में मोहम्मद शमी (18 विकेट) और अर्शदीप सिंह (16 विकेट) उसके स्टार रहे हैं, जबकि रवि बिश्नोई ने स्पिन विभाग में अच्छा प्रदर्शन किया है। पंजाब की निगाह बड़ी जीत पर होगी ताकि वह अगर मगर के समीकरणों के जरिए प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी धुंधली उम्मीदें बरकरार रख सके।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget