सिंघु बॉर्डर पर युवक की निर्मम हत्या

हाथ काटा, गर्दन पर वार किया फिर शव किसान आंदोलन के मंच के सामने लटका दिया 


सोनीपत 

किसान आंदोलन के हॉटस्पॉटमें से एक सिंघु बॉर्डर आज एक अलग मामले को लेकर चर्चामें है। सिंघु बॉर्डर से लगे हरियाणा के सोनीपत जिले के कुंडलीमें एक युवक की अंग-भंग लाश बैरिकेड पर लटकी मिलने से सनसनी फैल गई। दरअसल 35-36 सालके युवक लखबीर सिंह को निहंगों ने बेरहमीसे मार दिया। पहले उसके हाथ-पैर काटे, उसे रस्सीसे बांधकर 100 मीटर तक घसीटा और जब तड़प-तड़पकर उसका दम निकल गया तो निहंगों ने लाश किसान आंदोलन के मंचके सामने बैरिकेड से लटका दी। 

 हत्याके 15 घंटे बाद एक निहंग ने पुलिसके सामने सरेंडर कर दिया है। निहंग नेता ज्ञानीशमशेर सिंह का कहना है कि धर्मकी रक्षा बिना ताकत के नहीं हो सकती। उन्होंने दावा किया, ‘पहले भीगुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबीके मामले सामने आए थे। हमने तब गुनहगारों को पुलिसके हवाले किया था, लेकिन पुलिसने कुछ दिनों में उन्हें छोड़ दिया। इसलिए इसबार हमने सबक देने के लिए गुनाह के बराबर सजा दी, ताकि दोबारा कोई ऐसा करने की हिम्मत भीन करे, और फिर भी दोबारा ऐसा हुआ तो हम उसे फिर ऐसा ही‘प्रसाद’ देंगे।’ 


 भाजपा ने राकेश टिकैत को घेरा 


 भाजपा के आइटीसेल के प्रभारी अमित मालवीय ने कुंडली  बॉर्डर पर हुई युवक की हत्याके बाद किसान नेता राकेश टिकैत पर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है किअगर योगेंद्र यादव के बगल में बैठकर राकेश टिकैत लखीमपुर में हुई मॉब लिंचिंग को सही न ठहराते तो कुंडली बॉर्डर पर युवक की इस तरह से हत्या न होती। उन्होंने कहा कि किसानों के नाम पर इन विरोध प्रदर्शनों के पीछे फैलाई जा रही अराजकता को बेनकाब करने की जरूरत है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget