चुनौतीपूर्ण सत्र, लेकिन हायतौबा नहीं मचा सकते : विलियम्सन


दुबई

सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियम्सन का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में यह सत्र उनके लिये चुनौतीपूर्ण रहा लेकिन इसको लेकर किसी को हायतौबा नहीं मचानी चाहिए। विलियम्सन ने डेविड वार्नर से सनराइजर्स की कप्तानी संभाली थी लेकिन इससे भी उसका भाग्य नहीं बदला और टीम का इस बार तालिका में अंतिम स्थान पर रहना तय है। विलियम्सन ने सनराइजर्स की कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के हाथों छह विकेट से हार के बाद कहा, पिचों में काफी भिन्नता है और हमने देखा है कि वे टीम सफल रही जिन्होंने इन पिचों से अच्छी तरह से सामंजस्य बिठाया। हमारे लिये यह महत्वपूर्ण है कि इस पर हायतौबा न मचायें। हमारे लिये यह निश्चित तौर पर चुनौतीपूर्ण सत्र रहा। उन्होंने कहा कि जब प्रदर्शन अच्छा नहीं रहता तो बहुत चीजों पर ध्यान केंद्रित किया जाता है जिससे परेशानियां ही बढ़ती हैं। विलियम्सन ने कहा, मेरा निजी तौर पर मानना है कि टूर्नामेंट के दूसरे चरण में कप्तान के तौर पर मैंने यह प्रयास किया कि खिलाड़ियों का ध्यान न बंटे। कई चीजें होती हैं जिनसे खिलाड़ियों का ध्यान बंट सकता है। उन्होंने निराशा जतायी कि उनकी टीम पावरप्ले के छह ओवरों में अधिक से अधिक रन जुटाने में असफल रही।विलियम्सन ने कहा, हमारे पास 140-150 रन तक पहुंचने का मौका था लेकिन हम ऐसा नहीं कर पाये। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget