सरेंडर करेगा गोसावी!

क्रूज ड्रग्स केस में नया ट्विस्ट


नई दिल्ली

क्रूज ड्रग्स केस में रोज नए घटनाक्रम सामने आ रहे हैं। प्रभाकर सेल ने दावा किया था कि केपी गोसावी ने आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ की मांग की थी। इसमें गोसावी के साथ समीर वानखेड़े भी शामिल थे। अब इस पर फरार चल रहा केपी गोसावी सामने आया है। उसने कहा है कि सब आरोप झूठे हैं। उसे ही धमकाया जा रहा था क्योंकि उसने आर्यन खान की गिरफ्तारी कराई थी। अब वह सरेंडर करने जा रहा है लेकिन महाराष्ट्र से बाहर। वह लखनऊ में सरेंडर कर सकता है।

केपी गोसावी के बॉडीगार्ड प्रभाकर सेल ने रविवार को एक हलफनामा जारी किया और दावा किया था कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को छुड़ाने के लिए केपी गोसावी ने 25 करोड़ की रिश्वत मांगी थी। इतना ही नहीं, उसने बताया था कि ये मांग गोसावी ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की ओर से की थी। प्रभाकर सेल गोसावी के साथ क्रूज ड्रग्स केस में एनसीबी का गवाह है।

अब इस पूरे मामले में केपी गोसावी सामने आया है। वह छापेमारी के बाद से फरार है। एक न्‍यूज चैनल से फोन पर बातचीत में केपी गोसावी ने कहा कि उसके खिलाफ लगाए जा रहे सारे आरोप झूठे हैं। उसने कहा कि वह समीर वानखेड़े को जानता तक नहीं है। उसने उसे बस टीवी पर देखा है। इसके अलावा वो एनसीबी की पिछली किसी भी रेड में टीम के साथ नहीं था।

दिल्‍ली पहुंचे वानखेड़े

समीर वानखेड़े दिल्ली पहुंच गए है। वह आज्‍ा NCB के महानिदेशक (DG) सत्य नारायण प्रधान से मुलाकात करेंगे। वानखेड़े के खिलाफ NCB ने इंटरनल विभागीय जांच शुरू की है।

NCB के डिप्टी डायरेक्टर जनरल और एजेंसी के चीफ विजिलेंस ऑफिसर ज्ञानेश्वर सिंह ने बताया कि वे खुद वानखेड़े के खिलाफ जांच की निगरानी कर रहे हैं। ज्ञानेश्वर सिंह से पूछा गया कि जांच के दौरान भी वानखेड़े अपने पद पर बने रहेंगें या नहीं? इस पर उन्होंने कहा कि हमने अभी-अभी जांच शुरू की है, इसलिए इस पर टिप्पणी करना जल्दबाजी होगी।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget