योगी का पुलिसकर्मियों को सबक

सही समय पर सूचना दे दें तो नहीं बनेंगे खलनायक

लखनऊ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को पुलिस विभाग में उत्कृष्ट सेवा करने वाले कर्मियों को उत्तर प्रदेश पुलिस के मुखिया के कार्यालय सिगनेचर बिल्डिंग में सम्मानित किया। इस समारोह में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 75 पुलिसकर्मियों को सम्मानित करने के साथ ही उनको मौके पर ही बड़ा सबक भी दे दिया।

उत्तर प्रदेश पुलिस उत्कृष्ट सेवा सम्मान समारोह में सीएम योगी आदित्यनाथ ने वीरता के साथ ही अन्य पदक पाने वाले अधिकारियों व कर्मियों को बधाई देने के साथ ही उनको कर्तव्य भी याद दिलाया। उन्होंने कहा कि अगर समाज का हर नागरिक अपने-अपने क्षेत्र में पूरी ईमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करने जुट जाए, तो लक्ष्य प्राप्ति व संकल्पों को पूरा करने में देर नहीं लगेगी। मुझे लगता है कि अमृत महोत्सव का यह वर्ष हम सभी को इस बात के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि 2017 में जब हमारी सरकार आई, तो पूरे प्रदेश में सिर्फ एक साइबर थाना गौतमबुद्ध नगर में था। उस समय लखनऊ में साइबर थाना खुलने की प्रक्रिया चल रही थी। आज सभी रेंज स्तर पर साइबर थाने सफलतापूर्वक संचालित हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 75 पुलिस अधिकारियों/कार्मिको उनके विशिष्ट योगदान व उत्कृष्ट सेवाओं के लिए आज अलंकृत किया जा रहा है। मैं उन सभी पुलिस अधिकारियों/कार्मिकों को बधाई व शुभकामनाएं देता हूं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान स्पष्ट कहा कि अगर प्रदेश की कानून-व्यवस्था को सुधारने में लगी पुलिस समय पर सही जानकारी मीडिया तथा इंटरनेट सोशल मीडिया में दे दें, तो आप खलनायक नहीं बनेंगे। उन्होंने कहा कि कहीं पर भी समय पर कोई प्रतिक्रिया न देने पर मामला बिगड़ता है। मामला बिगडऩे के बाद अधिकारी तो एक दूसरे का मुंह देखते हैं। बचाव करते हैं। इसी कारण ऐसे मौका न आने दें। आपको जनता की रक्षा करनी है। सरकार को भी आप सभी पर बड़ा भरोसा है। 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 2019 से पदक नहीं दिए गए थे। इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ के सिगनेचर बिल्डिंग में आने पर उनको तुलसी का पौधा भी भेंट किया गया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget