आपका बच्चा शर्मीला है तो अपनाएं कुछ टिप्स


हर बच्चा अपने आप में अलग होता है। ठीक उसी तरह बच्चों के स्वभाव भी एक दूसरे से काफी अलग होते हैं। जिसमें से एक स्वभाव है शर्माने का। बच्चों का शर्मीलापन अक्सर तब सामने आता है जब, कोई मेहमान आपके घर पर आता है। स्वभाव से शर्मीले बच्चे सामने वाले के सामान्य सवालों के जवाब देने से भी डरते हैं या यूं कहें कि वो कतराते हैं। जिससे पैरेंट्स को भी कभी कभी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। पैरेंट्स अपनी सूझ-बुझ और समझदारी से अपने बच्चों की लाइफस्टाइल और आदतों में कुछ बदलाव कर सकते हैं, जिससे उनकी ये समस्या कम हो सके। हालांकि ये स्वभाव होना बच्चों में बेहद आम बात है, जिसके लिए अभिभावकों की चिंता जायज भी है। 

उसे कहने दें अपनी बात- जब भी कोई बच्चा अपने पेरेंट्स से बात करता है तो अकसर माता-पिता उन्हें बीच में ही चुप करा देते हैं। ऐसे में वो अपनी बात नहीं कह पाते। ऐसे कई कारण होते हैं जिनके डर की वजह से बच्चों में शर्मीलेपन का स्वभाव पनपने लगता है। याद रखें कि जब आपका बच्चा अपनी बात कहता हैं तो वो अपने भावनाएं भी व्यक्त करता है।आप उकी बात को तवज्जो दें और उसे अपनी बात कहने का पूरा मौका दें।

बच्चे को करें प्रोत्साहित- हर बच्चे को तब सबसे ज्यादा ख़ुशी होती है, जब उसके पैरेंट्स किसी दूसरे के सामने उसकी तारीफ करते हैं। आप अगर किसी गैदरिंग में है तो ओने बच्चे उपलब्धियों की जमकर तारीफ करें। ऐसा करने से आपके बच्चे को अहसास होगा कि इस्तनी भीड़ में भी आप उसे सबसे खास बना रहे हैं। साथ ही अपने बच्चे को इस बात का एहसास दिलाएं की दूसरे बच्चों एकागे उसमें कोई भी कमी नहीं है। उसे कभी भी नीचा ना दिखाएं।

बच्चों पर ना लगाएं शर्मिला का ठप्पा- जी हां अगर आपका बच्चा शर्माता है तो उन्हें बार-बार इस बात का ताना ना मारें। इसकी वजह से आपके बच्चा गहरे तनाव में जा सकता है। अगर आप दूसरों के सामने उसे शर्मिला कह कर बुलाएंगे तो उसे बुरा लग सकता है और उकस मनोबल टूट सकता है।

बच्चों का बार-बार ना डांटे- अक्सर बच्चे बाहर वालों के सामने नहीं जाते और शर्माते है। तो आप उन्हें इस बात पर बिलकुल भी ना डांटे। आप जब भी इस स्थिति में हो तो इस बात को नजरअंदाज कर दें। आप किसी बाहर वाले के सामने उसे शर्मिला ना बुलाएं। आप कुछ ऐसी स्थिति बनाएं जिससे आपका बच्चा मेहमानों के साथ घुल मिल सके।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget