पाक क्रिकेट टीम का कोच नहीं बनना चाहते अकरम

wasim akram

कराची

पाकिस्तान के दिग्गज क्रिकेटर एवं पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने राष्ट्रीय टीम का कोच नहीं बनने के पीछे के कारणों का खुलासा किया है। 1992 विश्व कप विजेता टीम के खिलाड़ी रहे अकरम ने कहा कि वह इतना समय टीम को नहीं दे सकता।  वसीम अकरम अलग-अलग टी-20 लीग में टीमों से बतौर कोच जुड़े रहे हैं। वह आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स के सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा थे, इसके अलावा उन्होंने पाकिस्तान सुपर लीग में कई फ्रैंचाइजियों की मदद की है। उन्होंने हाल ही में में क्रिकेट पाकिस्तान के एक कार्यक्रम में कहा कि कोचिंग के लिए जितना समय देने की आवश्यकता होती है, उतना समय वे नहीं दे सकते हैं। 

अकरम ने कहा, ‘जब आप कोच बनते हैं तो आपको टीम को कम से कम 200-250 दिन देने होते हैं और यह बहुत होता है। मुझे नहीं लगता कि मैं पाकिस्तान और अपने परिवार से दूर रहकर इतना काम कर पाऊंगा। हालांकि मैं पीएसएल में अधिकतर खिलाड़ियों के साथ समय बिताता हूं और सभी के पास मेरा नंबर है और वे हमेशा मुझसे सुझाव मांगते रहते हैं।  पाकिस्तानी दिग्गज ने प्रशंसकों के बर्ताव पर भी अपनी बात रखी। उन्होंने खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन के लिए कोच को जिम्मेदार ठहराया जाता है और उन्हें सोशल मीडिया पर भला-बुरा कहा जाता है। उनके साथ दुर्व्यवहार भी होता है और यह भी एक कारण है जिसकी वजह से मैं राष्ट्रीय टीम का कोच नहीं बनना चाहता। अकरम ने कहा कि मैं दुर्व्यवहार को बर्दास्त नहीं कर सकता लेकिन हम ऐसे होते जा रहे हैं। मैं लोगों को पसंद करता हूं, उनके जोश और खेल के प्रति दीवानगी से मुझे प्यार है लेकिन गलत बर्ताव मुझे पसंद नहीं। मैंने ऐसा किसी और देश में नहीं देखा है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget