मायानगरी में महामारी को मात

अक्टूबर में कोरोना से सबसे कम हुई मौत


मुंबई

वैश्विक महामारी कोरोना फैलने के बाद 20 महीने में पहली बार मृत्यु दर नियंत्रण में आती दिखाई दे रही है। पिछले 20 महीनों के दौरान अक्टूबर में सबसे कम 109 मौतें हुई हैं। मृत्यु दर एक प्रतिशत से भी कम हो कर 0.96 प्रतिशत रह गई है। इसके साथ मरीजों की संख्या में भी बड़ी गिरावट हुई है। 30 अक्टूबर तक 11302 मरीज पाए गए। उल्लेखनीय है कि पिछले साल 11 मार्च को मुंबई में कोरोना का पहला मरीज पाया गया था। इसके बाद मरीजों की संख्या में रोजाना बढोत्तरी होती गई। मार्च 2020 में 313 और अप्रैल में 5918 मरीज पाए गए थे। कोरोना की पहली लहर इतनी तेज फैली कि सितंबर में 56887 मरीज मिले। प्रशासन द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों की बदौलत कोरोना का प्रभाव धीरे-धीरे कम होने लगा और नवंबर तक लगा लॉकडाउन खुलने लगा। अनेक क्षेत्र अनलॉक हो गए। मार्च 2021 में कोरोना की दूसरी लहर फिर शुरू हुई। इस महीने 82165 मरीज मिले। अप्रैल में 2 लाख 15 हजार 330 मरीज पाए गए, इसी महीने 1940 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई, जो कि कोरोना काल में एक माह में होने वाली मौत में सबसे अधिक रही। अब मृत्यु दर काफी घटी है, जो एक राहत भरी खबर है।

दिसंबर तक प्रशासन की परीक्षा

पिछले 20 महीने के दौरान अक्टूबर में सबसे कम मरीजों की मौत हुई । चूंकि अब त्योहार का मौसम चल रहा है। दशहरा, दीवाली, क्रिसमस और नए साल के स्वागत में लोगों की भारी भीड़ उमड़ेगी। इस दौरान आम लोगों के साथ प्रशासन की बड़ी परीक्षा होगी, लोगों को सावधानी बरतनी पड़ेगी। मनपा अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए अभी सावधान रहने की जरूरत है। नियमों का पालन करते हुए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की जरूरत है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget