महावितरण नेरुल डिवीजन ने बिजली चोर को पकड़ा

मुंबई

महावितरण ने वर्तमान में बिजली बिलों की वसूली के साथ बिजली कनेक्शन की जांच के लिए एक जोरदार अभियान चला रहा है। कार्रवाई के दौरान देखा गया कि रात में मीटर से छेड़छाड़ की जा रही है। इस सूचना के आधार पर नेरुल थाने से संपर्क किया गया और नेरुल विभाग द्वारा आगे की कार्रवाई की गयी। भांडुप अंचल के नेरुल संभाग के अंतर्गत सितंबर माह में तीनों अनुमंडलों में बिजली चोरी का अभियान चलाया गया था। पांच अक्टूबर को शिरवणे गांव, नेरुल में एमएसईडीसीएल नेरुल मंडल के अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंचे। लीलाबाई निवास भवन के शिरवणे गांव में शाम करीब साढ़े सात बजे मकान नंबर एक के मीटर केबिन में एक अज्ञात व्यक्ति को मीटर से तार जोड़ते देखा गया।

  उसे तुरंत पकड़ लिया गया और उससे पूछताछ की गई तो आरोपी ने बताया कि उसने उसी तरह से क्षेत्र में अन्य सात मीटर के साथ छेड़छाड़ की थी। इसमें उन्होंने रात में बिजली की खपत को रिकॉर्ड न करने और सुबह इस मीटर का उपयोग बहाल करने के लिए व्यवस्था की ताकि बिजली चोरी की भनक किसी को न लगे। 

कार्यपालक अभियंता, नेरुल, सिन्हाजीराव गायकवाड़, अपर अधिशासी अभियंता नेरुल संभाग अंबाडे, अपर अधिशासी अभियंता नेरुल अनुमंडल किरण धनैत, अपर कार्यपालक अभियंता, पाम बीच अनुमंडल, अन्नासाहेब काले, उप कार्यकारी अभियंता, नेरुल मंडल, प्रशांत बनाई, सहायक अभियंता नेरुल मंडल शरवारी पाटिल, सहायक अभियंता उल्वे शाखा, अविनाश राठौड़, सहायक अभियंता, नेरुल शाखा 3 सारिका अष्टंकर, सहायक अभियंता, नेरुल शाखा 1 आशीष इंगले, सहायक अभियंता, नेरुल अनुमंडल, वैभव सुरवड़े, तकनीकी कर्मचारी कु. वर्षा सोलंकी, स्वाति लाड, संदेश म्हात्रे, अशोक सालुंखे ने भारतीय विद्युत अधिनियम 2003 के तहत कार्रवाई की।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget