मुख्यमंत्री के भाषण पर सियासत तेज

भाजपा पर राउत का पलटवार


मुंबई

शिवसेना की दशहरा रैली में शिवसेना पक्ष प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा दिए गए भाषण के बाद  राज्य की सियासत गरमा हुई है। सत्तापक्ष और विपक्ष का एक  दूसरे पर आरोप -प्रत्यारोप शुरू है। एक  तरफ जहां सीएम ठाकरे के भाषण को विपक्षी दल भाजपा निराशाजनक और उद्धव ठाकरे की हताशा बता रहे है वही रविवार को शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने  विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस  समेत विपक्ष पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा,मुझे नहीं पता कि महाराष्ट्र में या देश में गांजा  की फसल का अधिक उत्पादन होता है या कुछ लोग भांग का उपयोग कर रहे हैं.इन सभी नेताओं का नार्कोटेस्टे  होना चाहिए। एनसीबी की कारवाई पर सवाल उठाते हुए राउत ने कहा कि एनसीबी को ऐसे लोगो की जांच करनी चाहिए। क्या कोई उन्हें प्रदान करता है? यह बहुत जरूरी है। 

सभी को अपनी पाटी बढ़ाने की आजादी 

 संजय राउत ने कहा कि संवैधानिक  का पालन करते हुए सभी राजनितिक दल को अपना पक्ष और समर्थन बढ़ाना चाहिए। कोई पार्टियां मजबूत, कोमल, तो कोई सख्त होती  है। लेकिन कुछ ऐसी पार्टियां भी होती है जो  लोगों का राजनीतिक वजूद खत्म करने के लिए उन्हें आत्महत्या के कगार पर ला देती  हैं।ऐसा  मैंने पहली बार इस देश में लोकतंत्र देखा है।बतादें की दादरा -हवेली से निर्दलीय सांसद मोहन देलकर ने 22 फ़रवरी को मुंबई के मरीन ड्राइव स्थित एक होटल में  आत्महत्या कर ली  थी,जिसके बाद रिक्त दादरा -हवेली लोकसभा सीट पर उपचुनाव होना है इस सीट पर मोहन देलकर के बेटे को शिवसेना उम्मीदवार बनाना चाहती है जिसके प्रचार के लिए संजय राउत दादरा -हवेली की लोकसभा सीट को जितने के लिए पूरी ताकत लगा रहे है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget