पाकिस्तान में सिख डॉक्टर की हत्या


पेशावर

भारत पर अंतरराष्ट्रीय मंच से कीचड़ उछालने की कोशिश में लगे पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों के खिलाफ जारी हिंसा का एक और दर्दनाक उदाहरण गुरुवार को पेशावर में देखा गया। यहां सिख समुदाय के एक सदस्य की सिर पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक पेशावर में यूनानी हकीम सरदार सतनाम सिंह (खालसा) को अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी। पुलिस के मुताबिक उन्हें चार गोलियां मारी गईं जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। 

हमलावर घटना को अंजाम देने के बाद मौके से फरार होने में सफल रहे। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि सिंह हसनदल के रहने वाले थे और शहर में धर्मांदर दवाखाना चलाते थे। पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और तलाश करने की कोशिश भी की लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 सिंह पर आतंकी हमले की संभावना की जांच भी की जा रही है। पाकिस्तान में हिंदुओं, ईसाइयों, सिख और पारसी समुदाय को भी हिंसा का सामना करना पड़ता रहा है। इस मुद्दे पर हाल ही में आयोजित संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र के दौरान भारत की ओर से फर्स्ट सेक्रटरी स्नेहा दुबे ने भी जवाब दिया था।

डर के माहौल में जी रहे हैं अल्पसंख्यक

इमरान के भारत पर आरोपों के जवाब में स्नेहा ने कहा था कि आज पाकिस्तान के अल्पसंख्यक सिख, हिंदू और क्रिश्चियन लगातार डर के माहौल में जी रहे हैं और राज्य-प्रायोजित आतंकवाद के जरिए अपने अधिकारों को कुचला जा रहा है। असहमति की आवाज को रोज दबाया जा रहा है। लोगों को गायब किया जा रहा है, एक्स्ट्रा ज्यूडिशियल किलिंग सामान्य है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget