गांवों में बदलाव से बदलेगा देश

स्वामित्व योजना के लाभार्थियों से बोले PM मोदी


नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ये जो गांव-मोहल्ले में ड्रोन उड़ रहा है, ये उड़न खटोला भारत के गांवों को नई उड़ान देने वाला है। उन्होंने कहा कि ड्रोन टेक्नोलॉजी से किसानों को, मरीजों, दूर-दराज के क्षेत्रों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिले, इसके लिए भी कई नीतिगत निर्णय लिए गए हैं। पीएम मोदी बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्वामित्व योजना के लाभार्थियों को संबोधित कर रहे थे। 

पीएम मोदी ने कहा कि आधुनिक ड्रोन बड़ी संख्या में भारत में ही बनें, इसमें भी भारत आत्मनिर्भर हो, इसके लिए PLI स्कीम भी घोषित की गई है। उन्होंने कहा कि वो जमाना देश पीछे छोड़ आया है जब गरीब को एक-एक पैसे, एक-एक चीज के लिए सरकार के पास चक्कर लगाने पड़ते थे। अब गरीब के पास सरकार खुद चलकर आ रही है और सशक्त कर रही है। बीते छह-सात साल में हमारी सरकार के प्रयासों को, योजनाओं को देखें तो हमने प्रयास किया है कि गरीब को किसी तीसरे व्यक्ति के सामने हाथ नहीं फैलाना पड़े।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज खेती की छोटी-छोटी जरूरतों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि के तहत सीधे किसानों के बैंक खातों में पैसा भेजा जा रहा है। स्वामित्व योजना, सिर्फ कानूनी दस्तावेज देने की योजनाभर नहीं है, बल्कि ये आधुनिक टेक्नॉलॉजी से देश के गांवों में विकास और विश्वास का नया मंत्र भी है।

उन्होंने कहा कि देश के गांवों को, गांवों की प्रॉपर्टी को, जमीन और घर से जुड़े रिकॉर्ड्स को अनिश्चितता और अविश्वास से निकालना बहुत जरूरी है। इसलिए पीएम स्वामित्व योजना, गांव के हमारे भाइयों और बहनों की बहुत बड़ी ताकत बनने जा रही है।

पीएम मोदी ने कोरोना से जंग की भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमने इस कोरोना काल में भी देखा है कि कैसे भारत के गांवों ने मिलकर एक लक्ष्य पर काम किया, बहुत सतर्कता के साथ इस महामारी का मुकाबला किया।

उन्होंने कहा कि बाहर से आए लोगों के लिए रहने के अलग इंतजाम हों, भोजन और काम की व्यवस्था हो, वैक्सीनेशन से जुड़ा काम हो, भारत के गांव बहुत आगे रहे। पीएम ने कहा कि ये हम अक्सर कहते-सुनते आए हैं कि भारत की आत्मा गांव में बसती है लेकिन आजादी के दशकों-दशक बीत गए, भारत के गांव के बहुत बड़े सामर्थ्य को जकड़ कर रखा गया।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget