स्कूल ने महिला टीचर को किया निष्कासित

उदयपुर

पाकिस्तान से टी-20 वर्ल्ड कप में भारत की हार होने के बाद जहां लोग अभी भी निराश हैं। वहीं इसी बीच राजस्थान में भारत बनाम पाकिस्तान के इस मैच को लेकर एक और बवाल खड़ा हो गया है। दरअसल प्रदेश के उदयपुर जिले में एक निजी स्कूल की शिक्षिका का अपने सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की जीत पर खुशी जाहिर करने के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। शिक्षिका के खिलाफ एक्शन लेते हुए नीरजा मोदी प्राइवेट स्कूल ने उन्हें बर्खास्त कर दिया है। वहीं दूसरी ओर कई राजनीतिक और सामाजिक संगठन भी शिक्षिका के विरोध में उतर आए हैं। पता चला है कि 24 अक्टूबर को भारत-पाकिस्तान के बीच टी-20 मुकाबले के बाद शिक्षिका ने अपने वॉट्सएप पर पाकिस्तान की जीत पर खुशी जाहिर करते हुए लिखा था कि हम जीत गए। ये वाट्सएप स्टेटस जब उनके संपर्क के एक अभिभावक ने देखा तो वो भड़क गए। अभिभावक ने जब उन्हें मैसेज किया कि क्या वो पाकिस्तान का समर्थन करती हैं जो शिक्षिका ने हां कर दिया। 

इस पर अभिभावकों ने स्कूल प्रबंधन को फोन कर भला-बुरा कहा और इसे देशद्रोही हरकत बताया। मामला तूल पकड़ा और प्रबंधन ने नफीसा अटारी को निष्कासित कर दिया। इधर मामला सामने आने के बाद मंगलवार को एबीवीपी कार्यकर्ता स्कूल पहुंच गए। उन्होंने स्कूल पर तिरंगा लहराया। मामले में दो सामाजिक संगठनों की ओर से सूरजपोल और सुखेर थाने में महिला टीचर के खिलाफ परिवारद भी दिया गया है। मामले को लेकर नफीसा अटारी ने वीडियो जारी कर माफी मांगते हुए कहा है कि हम मैच देख रहे थे हमने घर में ही दो टीम बांट ली थी। हम अपनी-अपनी टीम को सपोर्ट कर रहे थे। इसका ये मतलब नहीं था कि मैं पाकिस्तान को सपोर्ट कर रही हूं। किसी ने मुझे मैसेज किया कि आप पाकिस्तान को सपोर्ट कर रहे हो, हंसी-मजाक का मूड चल रहा था तो मैंने हां कह दिया। इसका मतलब कहीं भी नहीं हैं कि मैं पाकिस्तान को सपोर्ट करती हूं। मैं भारतीय हूं और भारत से प्यार करती हूं। मैंने खुद अहसास किया कि ये गलत हो गया है, तो मैंने स्टेटस डिलीट कर दिया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget