अवैध बालू खनन मामला दारोगा के घर रेड

बेतिया

अवैध बालू खनन मामले में आर्थिक अपराध इकाई पटना के द्वारा साठी थाना के समहौता गांव निवासी दारोगा संजय प्रसाद के पैतृक घर पर मंगलवार को छापेमारी की गई। छापेमारी की प्रक्रिया सुबह से दोपहर तक चली। जिसका नेतृत्व आर्थिक अपराध के वरीय पुलिस उपाधीक्षक रंजन कुमार कर रहे थे। लगभग चार घंटे तक घर के सभी सामानों की तलाशी ली गई। आर्थिक अपराध थाना कांड संख्या 21/2021 के अंतर्गत भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत तत्कालीन थानाध्यक्ष डोरीगंज सारण के विरुद्ध मामला दर्ज है। छापेमारी के दौरान दर्जनों की संख्या में अधिकारियों के साथ महिला पुलिस व एसटीएफ के जवान मौजूद रहे। छापेमारी के क्रम में दारोगा के पिता रूपलाल साह तथा छोटे भाई संजीव कुमार मौजूद रहे। वहीं छापेमारी कर रही टीम ने ग्रामीणों और मीडिया को दूर रखा। छापेमारी के बाद पूछताछ करने पर अधिकारियों ने कोई जवाब नहीं दिया। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार छापेमारी तीन जगहों पर की गई। जिसमें दारोगा के पैतृक स्थान समहौता, डेरा मुजफ्फरपुर तथा पटना में की गई है। वहीं छापेमारी के दौरान मिले सामानों का विवरण आर्थिक अपराध के अधिकारियों ने परिजनों के सुपुर्द किया। छापेमारी को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। ग्रामीणों के अनुसार दरोगा संजय प्रसाद अपने परिवार के साथ मुजफ्फरपुर रहते हैं। जबकि उनके पिता रूपलाल साह तथा छोटा भाई गांव में रहते है। यह लोग पेसे से किसान है। भाई धान की खरीद बेच करता है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget