जरूरत से ज्यादा ऑनलाइन शॉपिंग?


ढेरों वैरायटी और आकर्षक डिस्काउंट के कारण लोगों को ऑनलाइन शॉपिंग की लत-सी लग जाती है, जिसके कारण उनकी इनकम का ज़रूरत से ज़्यादा हिस्सा शॉपिंग में ख़र्च होने लगता है और उन्हें इसका एहसास भी नहीं होता। जब एहसास होता है, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। आपके साथ ऐसा न हो, इसलिए हम बता रहे हैं कुछ संकेत, जिनसे आपको पता चल सके कि शॉपिंग हद से ज़्यादा हो रही है।

जब लेना पड़े उधार

अपने ऑर्डर का पेमेंट करने के लिए जब आपको दोस्त या सहकर्मी से उधार लेने की ज़रूरत पड़ जाए, तो इसका सीधा अर्थ यही निकलता है कि आप अपनी हैसियत से ज़्यादा शॉपिंग करने लगी हैं। अगर आपने ऑनलाइन शॉपिंग बंद नहीं की, तो बहुत जल्द दूसरे कामों के लिए भी आपको उधार लेना पड़ सकता है।

जब तोड़ना पड़ जाए पिगी बैंक

अपनी सहूलियत के हिसाब से आप पिगी बैंक में इसलिए पैसे जमा करती हैं ताकि बुरे वक़्त में इसे तोड़कर आप अपनी सारी तो नहीं, मगर कुछ ज़रूरतें तो पूरी कर ही सकती हैं, लेकिन ज़रूरत की बजाय ऑनलाइन शॉपिंग का बिल भरने के लिए यदि आपको पिगी बैंक तोड़ना पड़े, तो ये ख़तरे की घंटी है। बेहतर होगा, अब अपनी शॉपिंग की लत पर लगाम लगाएं

जब ट्राई करने के लिए करने लगें शॉपिंग

वन पीस ड्रेस में मैं कैसी लगूंगी? क्या हाई हील सैंडल मुझ पर जंचेगी? अगर आप भी ऐसे ही सवालों के जवाब ढूंढ़ने के लिए या चीज़ों को महज़ ट्राई करने के लिए ऑनलाइन शॉपिंग कर रही हैं, तो अपनी इस आदत को सुधारिए, वरना बहुत जल्द आप भी ओवर ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों की लिस्ट में शामिल हो जाएंगी।

जब सेविंग अकाउंट बन जाए एक्सपेंस अकाउंट

ऑनलाइन बैंकिंग सुविधा के कारण अब आप एक क्लिक पर कोई भी चीज़ आसानी से ख़रीद सकती हैं। यदि आप इस सुविधा का ज़रूरत से ज़्यादा उपयोग ऑनलाइन शॉपिंग के लिए कर रही हैं और इसके कारण आपका सेविंग अकाउंट एक्सपेंस अकाउंट में बदल चुका है, तो इसका मतलब यही है कि आप अनलिमिटेड शॉपिंग करने लगी हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget