J&K: टेरर फंडिंग केस में जमात-ए-इस्‍लामी पर कसा शिकंजा


नई दिल्‍ली

राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी ने टेरर फंडिंग को लेकर जम्‍मू-कश्‍मीर  में प्रतिबंधित संगठन जमात ए इस्‍लामी के कई ठिकानों पर छापेमारी की है। एजेंसी की टीमों ने जमात ए इस्‍लामी से जुड़े लोगों के घरों और ऑफिस में छापे मारे हैं। जानकारी दी गई है कि एनआईए की ओर से जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस और सीआरपीएफ के साथ मिलकर बुधवार सुबह 6 बजे से छापे मारे गए थे। जानकारी के अनुसार एनआईए की यह छापेमारी 8 और 9 अगस्‍त को जम्‍मू-कश्‍मीर के कई इलाकों में की गई 61 छापेमारियों का ही अगला कदम है। अगस्‍त में एनआईए की टीमों की ओर से श्रीनगर, बडगाम, गांदरबल, बारामूला, कुपवाड़ा, बांदीपोरा, अनंतनाग, शोपियां, पुलवामा, कुलगाम, रामबन, डोडा, किश्तवाड़ और राजौरी जिले के विभिन्‍न स्‍थानों पर छापेमारी की गई थी। एनआईए की ओर से इससे पहले 22 अक्‍टूबर को जम्मू-कश्मीर के 6 जिलों में छापा मारा गया था। इस छापेमारी में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए कई आतंकवादियों के घर भी शामिल थे। एनआईए ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार भी किया था। 

बता दें कि एनआईए की ओर से कश्‍मीर घाटी में आम नागरिकों की हत्‍या के मामले में लगातार कार्रवाई जारी है. जानकारी के अनुसार एनआईए की ओर से जिन लोगों के घरों और ऑफिसों में छापेमारी की गई थी, उन पर आतंकियों की मदद करने के आरोप हैं. एनआईए ने 10 अक्‍टूबर को भी जम्‍मू-कश्‍मीर में 16 जगहों पर छापा मारा था. एनआईए ने इस दौरान कुलगाम, बारामुला, श्रीनगर और अनंतनाग जिलों में ये छापेमारी की थी. 12 अक्‍टूबर को भी एनआईए ने छापेमारी की थी. एनआईए ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी संबंधी गतिविधियों के मद्देनजर 16 जगहों पर छापेमारी की थी. एनआईए ने यह छापा लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हिज्ब-उल-मुजाहिदीन, अल बद्र, द रेसिस्टेंस फ्रंट, पीपल अगेंस्ट फासिस्ट फोर्सेज , मुजाहिदीन गजवातुल हिंद समेत विभिन्न आतंकी संगठनों की साजिशों का पर्दाफाश करने के लिए मारा था.


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget