UPA सरकार की अनुमति से आई थी अरूसा

सुखजिंदर के आरोपों पर कैप्टन का जवाब


चंडीगढ़

पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा आलम एक बार फिर पंजाब की राजनीति का मुद्दा बन गई हैं। पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा है कि उनकी सरकार कैप्टन अमरिंदर की दोस्त अरूसा की पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से लिंक की जांच कराएगी। सुखजिंदर के आरोपों पर पलटवार करते हुए पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा है कि चन्नी सरकार को जनता से किए वादे पूरे करने पर ध्यान देना चाहिए। कैप्टन ने यह भी कहा कि अरूसा केंद्र सरकार से मंजूरी लेकर आती हैं और यूपीए सरकार ने भी उन्हें इजाजत दी थी। कैप्टन के सलाहकार रवीन ठुकराल ने पूर्व सीएम का बयान जारी किया। इसमें कैप्टन ने कहा, 'सुखजिंदर आप मेरी कैबिनेट में मंत्री थे। आपको कभी अरूसा आलम के बारे में शिकायत करते नहीं सुना। वह 16 सालों से भारत सरकार की मंजूरी लेकर आती रही हैं। आप एनडीए और कांग्रेस की अगुआई वाली यूपीए सरकार पर भी पाकिस्तान की आईएसआई से मिलीभगत का आरोप लगा रहे हैं। अब आप निजी हमले कर रहे हो। सत्ता में आने के एक महीने बाद आपको जनता को दिखाने के लिए बस यही है। बरगारी और ड्रग्स केसों पर आपके बड़े वादों का क्या हुआ? पंजाब आपको वादों पर अमल का अब तक इंतजार कर रहा है।' कैप्टन ने चन्नी सरकार को सुरक्षा व्यवस्था पर ध्यान देने की सलाह देते हुए कहा कि मैं जिस बात को लेकर चिंतित हूं वह यह है कि जब त्योहार नजदीक हैं और आतंकी हमलों का खतरा अधिक है, आप कानून व्यवस्था को संभालने की बजाय आपने डीजीपी पंजाब को पंजाब की सुरक्षा की कीमत पर निराधार जांच करने को कहा है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget