216 छठ घाट संवेदनशील घोषित

मुजफ्फरपुर

आपदा प्रबंधन कार्यालय ने अंचलाधिकारियों की रिपोर्ट के आधार पर जिले के 216 महत्वपूर्ण छठ घाटों को संवेदनशील घोषित किया है। इनमें शहर के 33 छठ घाट भी शामिल हैं। विभाग ने इन संवेदनशील छठ घाटों पर विशेष व्यवस्था के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। साथ ही चेतावनी दी गई है कि इसमें किसी तरह की लापरवाही पर कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी। 

जिले के हजारों छठ घाटों में से 216 महत्वपूर्ण छठ घाट संवेदनशील घोषित किए गए हैं। इनमें मुजफ्फरपुर शहरी क्षेत्र के 33 घाटों के अलावा मुशहरी ग्रामीण क्षेत्र के सात घाट शामिल हैं। इनके अलावा सकरा के 69, कुढ़नी के 14, सरैया के 10, मीनापुर के आठ, कटरा के 12, औराई के 18, बंदरा के 15, गायघाट के 13, कांटी के पांच, साहेबगंज के एक, मोतीपुर के दो, बोचहां के एक व पारू के दो के अलावा कटरा के भी छठ घाटों को संवेदनशील घोषित किया गया है। इन्हें संवेदनशील मानने का आधार इन घाटों पर पानी के स्तर के अलावा सुरक्षा के दृष्टिकोण को भी बनाया गया है।

घाटों की सफाई का आदेश

दिवाली के अगले दिन भी सफाई कर्मी छुट्टी के मूड में रहे। शहर के दो ही पोखरों की सफाई हो पायी। सफाई प्रभारी ने कर्मियों की चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि हर हाल में सभी घाटों पर निर्धारित ड्यूटी चार्ट के अनुसार पहुंच जायें। शुक्रवार को सफाई कर्मी की कमी के कारण शहर के दो पोखरों पर ही निगम का सफाई अभियान चला। इनमें श्याम सिनेमा पोखर व साहू पोखर शामिल हैं। इन दोनों पोखरों को सफाई कर्मियों ने साफ किया और इसके अंदर फैले कचरे को बाहर निकाला। निगम अधिकारियों ने बताया कि कर्मियों को हर हाल में ड्यूटी पर मौजूद रहने का निर्देश दिया गया है।

130 महिला पुलिस कर्मियों ने मांगी छुट्टी

इस साल बड़ी संख्या में महिला पुलिसकर्मी छठ कर रही हैं। बताया गया कि छठ करने के लिए अब तक 130 महिला पुलिस कर्मियों ने छुट्टी मांगी है। महिला थाने की अधिकांश पुलिसकर्मी छठ कर रहीं हैं। वरीय अधिकारियों ने आवेदन को फिलहाल समीक्षा के लिए रखा है।

स्थानीय थानों को निगरानी का जिम्मा

विभाग ने इन सभी छठ घाटों पर दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी के अलावा लाईफ जैकेट, मोटरवोट या नाव व गोताखोरों की तैनाती के आदेश दिए हैं। इन घाटों पर स्थानीय थानों को भी निगरानी का आदेश दिया गया है। इन घाटों पर मेडिकल सुविधा, सुरक्षा व्यवस्था व बैरिकेडिंग की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही अंचलाधिकारियों को रोशनी की व्यवस्था का भी निर्देश दिया गया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget