2296 कर्मचारियों को बर्खास्तगी की नोटिस

एसटी महामंडल ने उठाया बड़ा कदम


मुंबई

एसटी कर्मचारियों की हड़ताल खत्म करने के लिए एसटी महामंडल ने कड़े कदम उठाए हैं। बुधवार को दैनिक वेतन पर काम करने वाले 2 हजार 296 कर्मचारियों को टर्मिनेशन नोटिस जारी किया गया है। इन कर्मचारियों को 24 घंटे के भीतर काम पर हाजिर रहने का आदेश दिया गया है, अन्यथा बिना किसी सूचना के उनकी सेवाएं समाप्त कर दी जाएगी। 

एसटी महामंडल अब तक 2,178 कर्मचारियों को निलंबित कर चुका है। इस बीच बुधवार को एसटी के 7,400 कर्मचारी काम पर मौजूद रहे। इसमें 264 ड्राइवर और 139 कंडक्टर शामिल थे। राज्य के विभिन्न हिस्सों में 107 बसों को छोड़ा गया, जिसमें से 2 हजार 899 यात्रियों ने यात्रा की। वर्तमान में एसटी उपस्थिति बोर्ड पर कुल कर्मियों की संख्या 92 हजार 266 है। हड़ताल में भाग लेने वाले कर्मचारियों की वास्तविक संख्या 84 हजार 866 है। एसटी कर्मचारियों की हड़ताल अभी भी जारी है। केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास आठवले ने बुधवार को आजाद मैदान में जारी हड़ताल का समर्थन किया। उन्होंने सुझाव दिया कि ठाकरे सरकार को जगाने के लिए लड़ाई तेज की जाए। 

इधर एसटी कर्मचारियों के प्रतिनिधियों और नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए भाजपा विधायक गोपीचंद पडलकर ने कहा कि सरकार फूट डाल रही है और कर्मचारियों में डर का वातावरण तैयार किया जा रहा है। ऐसे में हमने राज्यपाल से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में विधायक सदाभाऊ खोत, गुणरत्न सदावर्ते और पांच महिला कर्मचारी शामिल थीं। 

 

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget