गढ़चिरोली में 26 नक्‍सली ढेर

सी-60 कमांडोज का बड़ा ऑपरेशन   |    तीन जवान घायल, बड़ा कैंप ध्‍वस्‍त


नागपुर

महाराष्‍ट्र के नक्‍सल प्रभावित गढ़चिरोली जिले में पुलिस दल के सी-60 कमांडोज ने शनिवार को  कोरची तहसील के गैरहपत्ती-कोटगुल क्षेत्र के ग्राम मरदिनटोला के जंगल परिसर में नक्सलियों के एक बड़े शिविर को ध्वस्त कर दिया है। इस दौरान हुई भीषण मुठभेड़ में कुल 26 नक्सलियों को मार गिराया गया। कार्रवाई के बाद घटनास्थल से भारी संख्‍या में हथियार बरामद किए गए हैं। घटना में गंभीर रूप से घायल तीन जवानों को नागपुर के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह सी-60 कमांडो का एक दल कोरची तहसील के गैरहपत्ती-कोटगुल क्षेत्र के मरदिनटोला जंगल परिसर में नक्सली खोज मुहिम पर तैनात था। इसी दौरान जवानों को जानकारी मिली कि क्षेत्र में नक्सलियों का एक बड़ा शिविर शुरू है। पुलिस विभाग के आला-अधिकारियों के मार्गदर्शन में जवानों ने सर्चिंग अभियान को और अधिक तीव्र कर दिया। इसी बीच पुलिस जवानों की भनक लगते ही घात लगाए बैठे नक्सलियों ने जवानों पर अंधाधुंध गोलियां बरसानी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस जवानों ने भी नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। पुलिस के बढ़ते दबाव को देख नक्सली घने जंगलों में फरार होने में कामयाब रहे। घटनास्थल से अब तक नक्सलियों के कुल 26 शव बरामद किए गए हैं। यह आंकड़ा बढ़ने की संभावना भी है। इस दौरान बड़े पैमाने पर नक्सल सामग्री भी बरामद की गई है। मुठभेड़ में सी-60 दल के कुल तीन  जवान भी घायल बताए गए  हैं, जिन्हें हेलिकाप्टर की मदद से नागपुर के अस्पताल रवाना किया गया है।

मरदिनटोला जंगल परिसर में शुरू नक्सलियों के शिविर में करीब 150 से 200 की संख्या में बंदूकधारी नक्सली उपस्थित थे। शिविर के माध्यम से किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की नीति तैयार किए जाने की जानकारी मिली है। लेकिन पुलिस जवानों ने नक्सलियों की इस करतूत को नाकाम कर दिया।

दिन भर चलती रही पवनहंस की उड़ान

शनिवार की सुबह जैसे ही सुरक्षाबलों ने नक्सली शिविर ध्वस्त किया, गड़चिरोली का पवनहंस नामक हेलिकाप्टर की उड़ानें भी शुरू हो गईं। करीब तीन से चार बार पवनहंस ने उड़ान भरी। अतिरिक्त जवानों को घटनास्थल की ओर रवाना करने के साथ घायल हुए जवानों को अस्पताल पहुंचाने में पवनहंस ने अहम भूमिका निभाई।

छह घंटे चली मुठभेड़

इसी बीच गढ़चिरोली के ग्यारबत्ती-कोडगुल जंगल के पास गढ़चिरोली की पुलिस ने घेराबंदी कर दी। इसमें नक्सली फंस गए। इसके बाद करीब छह घंटे लगातार मुठभेड़ हुई, जिसमें करीब 26 नक्सली मार गिराए गए। मुठभेड़ में बड़े नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर है। इसमें एमएमसी जोन के इंचार्ज दीपक तेलतुमड़े का नाम भी सामने आ रहा है। गढ़चिरोली के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल का कहना है कि मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों की पहचान अभी नहीं हो पाई है।

हमें अपनी पुलिस पर अभिमान: गृहमंत्री

गडचिरोली जिले के गैरहपत्ती जंगल में नक्सलवादियों के खिलाफ की गई पुलिस की कार्रवाई की गृह मंत्री दिलीप वलसे ने सराहना की है। उन्होंने कहा कि हमें अपनी पुलिस पर गर्व है। गृहमंत्री ने कहा कि यह कार्रवाई न केवल राज्य बल्कि देश के इतिहास में एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। इस ऑपरेशन में पुलिस ने 26 नक्सलियों को मार गिराया। पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए हैं। इस कार्रवाई में पुलिस के तीन जवान घायल हुए हैं। उनका इलाज शुरू है और उनकी हालत स्थिर है।  नक्सलवादियों से निपटने के लिए कार्यरत सी-60 बल को मिली जानकारी के आधार पर पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल के मार्गदर्शन में अपर पुलिस अधीक्षक सोमय मुंडे और उनकी टीम ने यह कार्रवाई की। गृह मंत्री ने इस उपलब्धि के लिए महाराष्ट्र विशेषकर गढ़चिरोली पुलिस को बधाई दी है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget