पिछले 38 साल से कानुपर के ग्रीनपार्क में नहीं हारा है भारत

एकांतवास कर भारत व न्यूजीलैंड की टीमों ने ग्रीनपार्क स्टेडियम में बहाया पसीना

kanpur greenpark

25 नवंबर को खेले जाने वाले पहले टेस्ट मैच से पूर्व ग्रीनपार्क स्टेडियम में दोनों टीमें अभ्यास करने पहुंचीं। इस दौरान पहले वर्कआउट करते हुए ग्राउंड पर दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने जमकर पसीना बहाया। होटल से स्टेडियम खिलाड़ियों को कड़ी सुरक्षा में पहुंचाया गया। स्टेडियम में खिलाड़ियों के पास किसी को भी जाने नहीं दिया जा रहा है। इसके पीछे कोविड प्रोटोकॉल को बताया जा रहा है। गौरतलब है कि कानपुर पहुंचने पर दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों को होटल के कमरों में एकांतवास में रखा गया था। इसके बाद मंगलवार को टीमें होटल से निककर अभ्यास के लिए ग्रीनपार्क स्टेडियम पहुंचीं।

कानपुर। गंगा तट पर स्थित कानपुर का हरियाला ग्रीनपार्क मैदान भारतीय टीम के लिए कुल मिलाकर भाग्यशाली साबित हुआ है जहां न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृखंला का पहला मैच 25 नवंबर को खेला जाएगा। वर्ष 1952 से लेकर अब तक भारतीय टीम ने ग्रीनपार्क में कुल 22 टेस्ट मैच खेले है जिसमें भारत को सात में जीत मिली है, जबकि तीन में उसे हार का स्वाद चखना पड़ा है जिसमें दो में उसे वेस्टइंडीज ने और एक में इंग्लैंड ने हराया है।  शेष 12 मैचों में हार जीत का फैसला नहीं हो सका। जीत की बात की जाए तो भारतीय टीम ने यहां दो-दो बार ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका को हराया है जबकि 2009 में टीम को श्रीलंका के खिलाफ पारी और 144 रन से जीत हासिल हुयी थी। ग्रीनपार्क मैदान पर एक पारी में सर्वश्रेष्ठ स्कोर का रिकार्ड भी भारत के पास है। वर्ष 1986 में भारतीय टीम ने श्रीलंका के खिलाफ सात विकेट पर 676 रन बनाए थे हालांकि यह टेस्ट हार जीत के फैसले के बिना समाप्त हुआ था।  एक दिवसीय मैचों में भी ग्रीनपार्क पर भारत का सिक्का चला है। 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए। वनडे में भारत ने यहां 337 रनो का पहाड़ खड़ा किया था और जीत हासिल की थी। न्यूजीलैंड के खिलाफ अब तक खेले गए तीन मैचों में भारत के पक्ष में दो मुकाबले रहे है, जबकि एक ड्रा रहा है। वर्ष 2004 में भारत ने न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हराया था जबकि 2016 में 500वें टेस्ट में भारतीय टीम को 197 रनों से जीत का तोहफा इसी मैदान पर मिला था। न्यूजीलैंड की टीम ने इस मैदान पर एकमात्र एक दिवसीय मैच खेला है जिसमें उसको छह रन से सनसनीखेज हार का सामना करना पड़ा था। हालांकि 25 नवंबर से यहां शुरू होने वाले टेस्ट मैच में अधिकरतर भारतीय खिलाड़ियों के लिए यह नया मैदान होगा मगर रिकार्ड के लिहाज से भारतीय टीम बढ़े हुए मनोबल के साथ मैदान पर जीत के सिलसिले को बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी। कानपुर के क्रिकेट प्रेमी दर्शकों को हालांकि नियमित भारतीय कप्तान और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली, रोहित शर्मा के दर्शन नहीं होंगे जिन्हे पहले टेस्ट में विश्राम दिया गया है मगर कप्तान अजिंक्य रहाणे और मध्यक्रम की रीढ़ चेतेश्वर पुजारा के लिए यह टेस्ट मैच खोई फार्म को दोबारा पाने का बेहतरीन मौका होगा वहीं कोच मिस्टर भरोसेमंद राहुल द्रविड़ का भरोसे पर खरा उतरने की जिम्मेदारी पदार्पण कर रहे श्रेयस अय्यर और शुभमन गिल को कंधों पर होगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget