दिसंबर से बच्चों का वैक्सीनेशन!

vaccination

नई दिल्ली

देश में दिसंबर के पहले हफ्ते से बच्चों को कोरोना का टीका लगाए जाने की शुरुआत हो सकती है। देश में 18 साल से कम उम्र के 44 करोड़ बच्चे हैं, लेकिन सबसे पहले लगभग 6 करोड़ बच्चों के वैक्सीनेशन से शुरुआत की जाएगी। जिसके लिए डीटेल प्लान तैयार किया जा रहा है। सबसे पहले ऐसे 6 करोड़ बच्चों का टीका दिया जाएगा जिन्हें कोई बड़ी बीमारी है। इसके लिए बीमारी का सर्टिफिकेट दिखाना होगा। बच्चों की वैक्सीन के लिए जायकोव डी, कोवैक्सीन, बायोलॉजिकल ई और सीरम इंस्टिट्यूट की कोवोवैक्स कतार में है। लेकिन दिसंबर की शुरुआत में बच्चों को जायकोव डी और कोवैक्सिन लगाने की योजना है। केंद्र सरकार के मुताबिक कई देशों में बच्चों को कोरोना का टीका दिया जा रहा है जिस पर वह नजर बनाए हुए है।

 बता दें फिलहाल अमेरिका, डेनमार्क, जर्मनी, ऑस्ट्रिया, हंगरी, इटली, स्पेन, स्वीडन, ग्रीस, फिनलैंड, पोलैण्ड, ब्रिटेन, स्विट्जरलैंड, इजरायल, संयुक्त अरब अमीरात, इंडोनेशनिया, ऑस्ट्रेलिया और चीन में बच्चों को टीका दिया जा रहा है. इन देशों में हो रहे वैक्सीनेशन पर केंद्र सरकार की नजर है. जिनसे बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए सुझाव भी लिए जा रहे हैं. बता दें अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने हाल ही में ‘फाइज़र’ के कोविड-19 रोधी टीके की बच्चों के मुताबिक तैयार खुराक 5 से 11 वर्ष के बच्चों को देने की इजाजत दी है. खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने 5 से 11 वर्ष की आयु के बच्चों को टीके की खुराक देने की अनुमति पहले ही दे दी थी. यह खुराक वयस्कों और किशोरों को दी जाने वाली खुराक की एक तिहाई है. इस फैसले के साथ ही पहली बार अमेरिका में 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को कोविड-19 रोधी टीके लग पाएंगे.


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget