हिंसा की जांच कराएगी सरकार

रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई  

मुंबई 

गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने कहा कि अमरावती, नांदेड, मालेगांव शहर में दंगे कैसे भड़के? हिंसा क्यों हुई? इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। गृहमंत्री नक्सलवादियों के साथ मुठभेड़ में घायल पुलिस जवानों से मिलने नागपुर पहुंचे थे। इस दौरान वे पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

त्रिपुरा में अल्पसंख्यक समुदाय पर कथित हमले के बाद मालेगांव, नांदेड और अमरावती में रजा अकादमी ने मोर्चे निकाले थे। इस मोर्चे के दौरान पथराव हुआ था। इस घटना के बाद लगातार रजा अकादमी का नाम सामने आ रहा है। 

राकांपा प्रवक्ता और अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक ने सवाल उठाया कि रजा अकादमी के दफ्तर में भाजपा नेता आशीष शेलार क्या कर रहे थे? जब यही सवाल गृह मंत्री से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि नवाब मलिक ने क्या बोला, इसकी जानकारी उन्हें नहीं है। यह कहकर उन्होंने इस सवाल का जवाब देना टाल दिया।

रजा अकादमी पर लगे प्रतिबंध: नितेश राणे

भाजपा विधायक नितेश राणे ने महाराष्ट्र में हुई हिंसा के लिए रजा अकादमी पर प्रतिबंध लगाने और उसके प्रमुख पदाधिकारियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा सवाल किया कि जब रजा अकादमी के कार्यकर्ताओं द्वारा सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाई जा रही थी तो पुलिस का गुप्तचर विभाग क्या कर रहा था? 

रजा अकादमी को मोर्चा निकालने की अनुमति क्यों दी गई? नितेश ने कहा कि रजा अकादमी के समर्थकों ने त्रिपुरा में धार्मिक स्थानों पर तोड़फोड़ होने की गलत जानकारी सोशल मीडिया पर फैला कर मुस्लिम धर्मावलंबियों की भावनाओं को भड़काया। इतना सब होने पर भी राज्य की पुलिस ने रजा अकादमी को मोर्चा निकालने की अनुमति दी।

इस मोर्चे में शामिल लोगों ने बिना किसी कारण के हिंदू धर्मावलंबियों पर हमला किया और पुलिस पर पत्थरबाजी की। लेकिन पुलिस ने हिंसक भीड़ को बल प्रयोग करके रोका नहीं।

 भाजपा नेता गिरफ्तार, जमानत मिली  

अमरावती बंद में शामिल भाजपा के 14 नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बाद में उन्हें अदालत में पेश किया गया, जहां से 13 लोगों को जमानत मिल गई। सोमवार सुबह से ही अमरावती के अलग-अलग इलाकों से भाजपा नेताओं को गिरफ्तार करने कार्रवाई शुरू हुई। इनमें पूर्व मंत्री अनिल बोंडे, भाजपा नेता तुषार भारती सहित कई अन्य नेता शामिल थे। वहीं अमरावती की पालक मंत्री यशोमति ठाकुर ने कहा कि दंगा करने वाले एक भी शख्स को नहीं छोड़ा जाएगा।

 

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का मलिक के खिलाफ प्रदर्शन

इधर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की तरफ से सोमवार को आजाद मैदान में अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन का नेतृत्व सुलताना खान ने किया। उन्होंने कहा कि नवाब मलिक लगातार महिलाओं का अपमान कर रहे हैं,उनके विरोध में हुए प्रदर्शन में बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाओं ने हिस्सा लिया।

शेलार का पलटवार

नवाब मलिक के आरोप पर पलटवार करते हुए आशीष शेलार ने कहा कि इस तरीके से अलग-अलग फोटो पर अफवाह फैलाकर राजनीति करना आपका धंधा है, लेकिन त्रिपुरा की घटना के बाद महाराष्ट्र में दंगे और वर्ष 2016-17 की फोटो का संबंध क्या है? शेलार ने कहा कि मेरी इस तस्वीर का रजा अकादमी से क्या संबंध है? यह बैठक रजा अकादमी के कार्यालय में नहीं हुई थी। कोई पुरानी फोटो दिखाकर आज के दंगों में महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार की विफलता को छुपाने का काम मत कीजिए। आपकी बुरी आदत नहीं जाएगी तो हमारे पास आपकी रजा अकादमी के साथ असंख्य तस्वीरें दिखानी पड़ेगी, उस वक्त आपको मुंह दिखाने की जगह नहीं बचेगी।

पैसे देकर भड़काया गया दंगा: मलिक  

इधर राकांपा प्रवक्ता और मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि भाजपा ने जानबूझकर बंद के दौरान दंगे भड़काए। हालांकि पुलिस ने इस साजिश को नाकाम कर दिया। मलिक ने कहा कि राज्य में दंगा भड़काने की भाजपा की साजिश थी, लेकिन जनता ने संयम रखा। इस वजह से अन्य जगहों पर दंगे नहीं हुए। मलिक ने कहा कि अमरावती को छोड़कर कहीं कुछ नहीं हुआ। अमरावती में भी दो समुदाय के बीच दंगा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि पुलिस को जानकारी मिली है कि भाजपा नेता अनिल बोंडे ने दो नवंबर की रात में शराब बांटी, पैसे बांटे और दंगा भड़काया।

मलिक ने भाजपा नेता आशीष शेलार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वे रजा अकादमी के कार्यालय में गए थे। उनकी रजा अकादमी के नेताओं के साथ बैठक हुई। मेरे पास एक फोटो है। यह एक साजिश का हिस्सा है, या नहीं इसकी जानकारी नहीं है, लेकिन रजा अकादमी की कोई ताकत नहीं है। उनके मौलाना शहरों में घूमते रहते हैं, लेकिन राज्य में दंगा भड़काने की ताकत उनमें नहीं है, लेकिन शेलार उनके कार्यालय में बैठक कर रहे थे। इसकी जांच होगी और सभी दंगा करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा।      

 

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget