मुलायम के गढ़ में गरजे सीएम योगी

जो दुख में आपके साथ नहीं हो सकते वो कभी आपके नहीं होंगे

कानपुर

समाजवादी पार्टी के गढ़ माने जाने वाले जिले औरैया के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समाजवादी पार्टी के घर इटावा में जमकर गरजे। अखिलेश यादव के गृह जनपद इटावा को शनिवार को सेंट्रल जेल तथा अन्य विकास योजनाओं का तोहफा देने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां जनसभा को संबोधित किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण काल में जब पूरी भाजपा व उसके कार्यकर्ता लोगों की सेवा कर रहे थे, तब पूरा विपक्ष होम-आइसोलेशन में था। उन्होंने कहा कि विपक्ष के जो लोग, जो आपके दुख में साथ नहीं हो सकते, वो कभी आपके नहीं हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि आपने देखा होगा जिस अयोध्या में लोग जाने से डरते थे, रामभक्तों पर गोलियां चलाई जाती थी। आज उस अयोध्या में दीपोत्सव में लाखों-लाख दीपक चमक रहे हैं। जिस अयोध्या में पहले लोग जाने से डरते थे, आज अयोध्या में दीपोत्सव दुनिया की सबसे अच्छी दीपावली हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार जिस काम का शिलान्यास भी करती है और उद्घाटन/लोकार्पण करती है। नेता धोखा कर लें, तो जनता उसे लोकार्पण करने लायक नहीं रहने देती। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में 563 रियासतों को जोड़ने वाले सरदार पटेल जी की तुलना जिन्ना से की गई। देश तोडऩे वाले और हिन्दुओं का कत्लेआम करवाने वाले जिन्ना की तुलना महानायक सरदार पटेल जैसे महापुरुष से करने वाले जिन्नावादियों के मंसूबों को समझना होगा। अब चुनाव जिताकर अच्छे लोग भेजेंगे, तो अच्छा कार्य भी होगा। जेल में माफियाओं से मिल रहे हैं विपक्ष के लोग। राजनीति में अपराधीकरण को रोकना पड़ेगा। अगर कोई भी कानून के साथ खिलवाड़ करेगा तो प्रदेश सरकार का बुलडोजर हमेशा उसके लिए तैयार है। अब सिर्फ अपराध और अपराधियों पर ही नहीं, उन्हें संरक्षण देने वालों पर भी कड़ी कार्रवाई होगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget