नक्सलियों ने की परिवार के चार लोगों की हत्या


गया

बिहार के  गया में नक्सलियों के हथियार बंद दस्ता ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। जिले के डुमरिया थाना क्षेत्र के मोंनबार गांव में पुलिस की मुखबिरी करने के मामले में कार्रवाई करते हुए दो महिला समेत एक ही परिवार के चार सदस्यों को मौत के घाट उतार दिया। कार्रवाई के बाद नक्सलियों ने एक पर्चा छोड़ा है। इसमें लिखा है कि सात माह पूर्व मोंनबार गांव में चार बड़े नक्सली नेताओं को सरयू सिंह भोक्ता की महिलाओं ने जहर देकर हत्या कर दी थी। यहां चार नक्सली छुपने की सूचना भी दी गई थी। उस वक्त नक्सली नेता अमरेश, सीता, शिवपूजन एवं उदय की हत्या की गई थी। इन नक्सली नेताओं की हत्या का बदला लिया गया है। पर्चा में चार माह पूर्व नक्सली-पुलिस मुठभेड़ को भी फर्जी करार दिया है। जानकारी यह भी हो कि अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र डुमरिया और इमामगंज प्रखंड में 24 नवंबर को पंचायत चुनाव का मतदान होना है। इस कारण नक्सलियों ने पहले ही चुनाव बहिष्कार करने की घोषणा कर रखा है। इस तरह की कार्रवाई से आम लोगों में दहशत देखी जा रही है। 

यह वारदात डुमरिया थाना क्षेत्र के मोंनबार गांव में शनिवार देर रात हुई है। भाकपा माओवादी ने सरयू सिंह भोक्ता का घर डायनामाइट लगा कर ध्वस्त कर दिया। साथ ही घर में आग लगा दी। इधर, वरीय पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार ने बताया कि शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव में व्यवधान पैदा करने के लिए नक्सलियों द्वारा यह कार्रवाई की गई है। पुलिस लगातार सर्च अभियान चलाकर नक्सलियाें को पस्त किया गया था। ताकि शांतिपूर्ण तरीके से पंचायत चुनाव संपन्न कराया जा सके। एसएसपी ने बताया कि नक्सलियों द्वारा पूर्व में डायनामाइट लगाकर डुमरिया में सरजू सिंह भोक्ता के मकान को उड़ाया गया है। सरयू सिंह भोक्ता के पुत्र सतेंद्र सिंह भोक्ता एवं महेंद्र सिंह भोक्ता तथा दोनों की पत्नी की हत्या कर घर के दरवाज पर टांग दिया गया है। चारों शव को बरामद कर पोस्टमार्टम कराने के लिए गया स्थित अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज लाया जा रहा है। एसएसपी ने बताया कि घटनास्थल की घेराबंदी कर विशेष सुरक्षा बलों के द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget