फाइजर कंपनी कम आय वाले देशों को देगी कोविड की गोली


नई दिल्‍ली

दवा बनाने वाली कंपनी फाइजर इंक ने अन्य निर्माताओं को इसकी प्रायोगिक कोव‍िड-19 गोली बनाने की अनुमति देने के लिए संयुक्त राष्ट्र समर्थि‍त समूह मेडिसिन्स पेटेंट पूल (एमपीपी) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है। यह ऐसा कदम है जो दुनिया की आधी से अधिक आबादी के लिए इलाज उपलब्ध करा सकता है। इससे निम्न और मध्यम आय वाले देशों के लिए कोव‍िड की गोली उपलब्‍ध हो सकेगी। इस सौदे में कुछ बड़े देश शामिल नहीं हैं, जिन्होंने विनाशकारी कोरोना के प्रकोप का सामना किया है। उदाहरण के लिए ब्राजील की एक दवा कंपनी को अन्य देशों में निर्यात के लिए गोली बनाने का लाइसेंस मिल सकता है। ब्राजील में दवा को उपयोग के लिए सामान्य तौर पर नहीं बनाया जाता था। फिर भी स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि फाइजर की गोली को कहीं भी अधिकृत किए जाने से पहले ही यह सौदा हो गया था। इससे महामारी को जल्दी खत्म करने में मदद मिल सकती है। 

मेडिसिन्स पेटेंट पूल में नीति के प्रमुख एस्टेबन बरोन ने कहा क‍ि 4 अरब से अधिक लोगों के लिए यह काफी महत्वपूर्ण है। हम एक ऐसी दवा तक पहुंच प्रदान करने में सक्षम होंगे, जो प्रभावी प्रतीत होती है और जिसे अभी विकसित किया गया है। मंगलवार को जारी एक बयान में फाइजर ने कहा कि वह जिनेवा स्थित मेडिसिन पेटेंट पूल को एंटीवायरल गोली का लाइसेंस देगा, जो जेनेरिक दवा कंपनियों को 95 देशों में उपयोग के लिए गोली का उत्पादन करने देगा, जो दुनिया की आबादी का लगभग 53 फीसद है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget