म्यूचुअल फंड में बढ़ा निवेशकों का भरोसा


नई दिल्‍ली

म्यूचुअल फंड उद्योग में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान या सिप के जरिए निवेश चालू वित्त वर्ष के पहले सात माह (अप्रैल-अक्टूबर) में 67,000 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। यह खुदरा निवेशकों के बीच सिप की बढ़ती लोकप्रियता को दर्शाता है। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। वित्त वर्ष 2020-21 में इस निवेश माध्यम से 96,080 करोड़ रुपए का निवेश आया था। पिछले पांच साल में म्यूचुअल फंड सिप का योगदान दोगुना से भी ज्यादा हो गया है। 2016-17 में यह आंकड़ा 43,921 करोड़ रुपए रहा था। आंकड़ों के अनुसार, सिप के जरिए मासिक संग्रह का आकंड़ा भी अक्टूबर में 10,519 करोड़ रुपए के अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। 

सितंबर में यह 10,351 करोड़ रुपए था। इसके साथ ही प्रबंधन-अधीन सिप परिसंपत्तियों (AUM) का आंकड़ा भी अक्टूबर के अंत तक बढ़कर 5.53 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया, जो मार्च के अंत तक 4.28 लाख करोड़ रुपए था। पिछले पांच साल में सिप AUM में सालाना आधार पर 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जो म्यूचुअल फंड उद्योग के कुल संपत्ति आधार की वृद्धि का दोगुना है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget