तेज हुई बेस्ट की मनपा में विलय की मांग

BEST

मुंबई 

एसटी महामंडल को सरकार में विलय करने की मांग एसटी कर्मचारियों की हड़ताल अभी खत्म भी नहीं हुई है कि अब बेस्ट को मनपा में विलय करने की चली आ रही पुरानी मांग भी जोर पकड़ने लगी है। बेस्ट यूनियन के नेता शशांक राव ने कहा कि बेस्ट को मनपा में विलीन करने का निर्णय खुद मनपा प्रशासन ने लिया था, लेकिन अभी तक नगरविकास के पास नहीं भेजा है। शशांक राव ने कहा अब हम बेस्ट के विलीनीकरण को लेकर जोर लगाएंगे। मनपा प्रशासन से आग्रह करेंगे कि शिवसेना द्वारा मंजूर किए गए प्रस्ताव को राज्य सरकार के पास भेजें।

बता दें कि एसटी को सरकार में विलीन करने के लिए एसटी कर्मचारी पिछले 18 दिन से हड़ताल कर रहे हैं। इस हड़ताल पर अभी तक कोई निर्णय नहीं हो पाया इसलिए हड़ताल जोर पकड़ती जा रही है। मुंबई हाईकोर्ट ने भी अभी तक कोई ठोस निर्णय नहीं लिया है। 

मनपा पर डालेंगे दबाव 

शशांक राव ने कहा कि बेस्ट को मनपा में विलीन करने के सदन में पारित प्रस्ताव को पिछले तीन साल से राज्य सरकार के पास नहीं  भेजा गया है। उसे नगर विकास विभाग के पास तत्काल भेजने के लिए दबाव बनाया जाएगा।

बेस्ट बजट में भाजपा भी उठाएगी मांग

फिलहाल बेस्ट को मनपा में विलीन करने के मनपा सदन में लिए गए निर्णय को लेकर भी बजट चर्चा में भाजपा नगरसेवक प्रकाश गंगाधरे मांग करेंगे। बेस्ट को निजीकरण से बचाने के लिए बेस्ट का मनपा में विलय करना जरूरी है।

बेचे गए डिपो की हो ईडी से जांच 

गंगाधरे ने कहा कि बेस्ट को इससे लगभग 500 करोड़ का नुकसान उठाना पड़ा है। बेस्ट का कर्ज तो खत्म नहीं हुआ, ऊपर से बिल्डर मालामाल हो गए। बेस्ट के जितने भी डिपो को विकास के नाम पर बेचा गया है, उसकी ईडी से जांच होनी चाहिए।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget