जदयू सांसद का बेटा मुखिया चुनाव हारा

भगवानपुर (भभुआ)

उपेंद्र कुशवाहा को हराने वाले जदयू सांसद महाबली सिंह कुशवाहा का बेटा मुखिया चुनाव हारा, विधानसभा चुनाव में भी मिली थी हार बिहार पंचायत चुनाव के सातवें चरण की गिनती बुधवार सुबह से चल रही थी। काराकाट से जदयू सांसद महाबली सिंह कुशवाहा को बड़ा झटका लगा है। उनका बेटा धर्मेंद्र कुमार सिंह मुखिया का चुनाव हार गया। धर्मेंद्र भगवानपुर पंचायत से भाग्य आजमा रहे थे। सांसदी में उपेंद्र कुशवाहा को महाबली सिंह ने हराया था। अब उनके बेटे धर्मेंद्र सिंह को उपेंद्र पांडेय ने 471 मतों से हराया है। उपेंद्र को 1406 और धर्मेंद्र को 935 वोट मिले। धर्मेंद्र इससे पहले विधानसभा के चुनाव में भी हार का मुंह देख चुके हैं। 2010 में राजद के टिकट पर चैनपुर विधानसभा क्षेत्र से धर्मेंंद्र ने चुनाव लड़ा था। उन्हें करीब 20 हजार मत मिले थे। भाजपा प्रत्याशी बृजकिशोर बिंद ने धर्मेंद्र को हराया था। बृजकिशोर बिंद मंत्री भी बने थे।

चैनपुर विधानसभा क्षेत्र में ही भगवानपुर प्रखंड पड़ता है। चैनपुर विस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व महाबली सिंह कुशवाहा को कई बार करने का मौका मिला। वह राजद की सरकार में विभिन्न विभागों के मंत्री भी रहे थे। बसपा के टिकट पर पहली बार जीत हासिल की थी। राजद से होते हुए वह जदयू में शामिल हुए। रोहतास व कैमूर जिले को मिलाकर बना काराकाट संसदीय क्षेत्र का वह प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। इन्होंने उपेंद्र कुशवाहा को चुनाव में हराया था।

पिछले चुनाव में काराकाट लोकसभा क्षेत्र से एनडीए की तरफ से जदयू ने महाबली सिंह को उतारा था। उन्होंने तत्कालीन रालोसपा प्रत्याशी और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को 84542 वोटों से पराजित किया था। महाबली सिंह को 398408 और उपेंद्र कुशवाहा को 313866 वोट मिले थे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget