चन्नी सरकार पर फिर भड़के सिद्धू

STF रिपोर्ट को सार्वजनिक कर कार्रवाई के लिए कहा | HC की टिप्पणी के जरिए नेताओं और अफसरों पर उठाए सवाल


चंडीगढ़

पंजाब कांग्रेस चीफ नवजोत सिद्धू ने फिर से चन्नी सरकार को घेरा है। सिद्धू ने ड्रग्स केस में स्पेशल टास्क फोर्स रिपोर्ट को सार्वजनिक कर कार्रवाई करने को कहा। यही नहीं, सिद्धू ने हाईकोर्ट की टिप्पणी को आधार बना पंजाब के नेताओं और अफसरों पर भी सवाल खड़े कर दिए। सिद्धू ने नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों का हवाला देकर कहा कि पिछले लगातार 5 वर्षों से एनडीपीएस के क्राइम रेट में पंजाब टॉप पोजिशन पर बना हुआ है। सिद्धू ने कहा कि 2017 में वादा था कि 4 हफ्ते में नशे की कमर तोड़ देंगे, लेकिन एनसीआरबी के आंकड़े सच्चाई बयान कर रहे हैं।

सिद्धू ने कहा कि हम पर आरोप लगते रहे कि कांग्रेस भी ड्रग्स के खिलाफ कार्रवाई को लेकर अकालियों की खानापूर्ति वाली विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं। सिद्धू ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट की 2021 में दी टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि उसमें कहा गया कि पंजाब में ड्रग सप्लायर राजनीतिक संरक्षण में सजा से बच रहे हैं। सिर्फ छोटे कैरियर्स को पकड़ा जा रहा है। सिद्धू ने आगे कहा कि 1200 लाख ट्रेमाडोल गोलियों की बरामदगी ने जांच सीबीआई को ट्रांसफर 

कर दी थी। 

जिसमें HC ने कहा कि पंजाब सरकार के अफसर जानबूझकर ड्रग से जुड़े अपराधियों को बचा रहे हैं।

सिद्धू ने कहा कि HC ने पंजाब सरकार को STF की कॉपी दी। लेकिन इस पर कार्रवाई करने के बजाय हमारी सरकार फरवरी 2018 से उस पर बैठी हुई है। यहां तक कि हम मल्टीकरोड़ ड्रग केस में दूसरे आरोपियों के प्रत्यर्पण में फेल रहे। इसका सॉल्यूशन यह है कि हम बड़ी मछलियों को पकड़ें और उन्हें सजा दें।

सिद्धू ने कहा कि कानून के मुताबिक सरकार के पास सब अधिकार हैं कि वे STF रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई करें। इसलिए इस रिपोर्ट को तुरंत सार्वजनिक करना चाहिए। इस मामले में रिपोर्ट के आधार पर FIR दर्ज करनी चाहिए। इसके अलावा बड़े तस्करों को पकड़ने के लिए टाइम बाउंड इन्वेस्टिगेशन करनी चाहिए, जो पंजाब में नार्को टेरेरिज्म के लिए जिम्मेदार हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget