आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को पूरा करने में मिलेगी मदद : गिरिराज सिंह


नई दिल्ली

भारत के स्वदेशी ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट ने भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय की महत्वाकांक्षी दीनदयाल अंत्योदय योजना - राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्थानीय व्यवसायों और स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी), विशेष रूप से महिलाओं द्वारा चलाए जा रहे, को ई-कॉमर्स के साथ जोड़कर उन्हें सशक्त बनाने में मदद करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। यह भागीदारी डीएवाई-एनआरएलएम के स्व-रोजगार और उद्यमिता के ज़रिए ग्रामीण समुदायों की क्षमता को बेहतर बनाने के उद्देश्य को पूरा करने में सहायक होगी और इस तरह प्रधान मंत्री के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को पूरा करने में भी मदद मिलेगी। माननीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री  गिरिराज सिंह, ग्रामीण विकास राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति और ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते की उपस्थिति में दिल्ली में हुए कार्यक्रम में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। डीएवाई-एनआरएलएम में संयुक्त सचिव चरणजीत सिंह और रजनीश कुमार ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरि राज सिंह ने कहा, स्वयं सहायता समूह ग्रामीण अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं और हम उनकी वार्षिक आय को कम से कम 1 लाख रुपये तक बढ़ाने का लक्ष्य बना रहे हैं। हम उन सभी संभावित भागीदारों की पहचान करके उनके साथ सहयोग कर रहे हैं जो इस मिशन में योगदान दे सकते हैं। डीएवाई एनआरएलएम और फ्लिपकार्ट के बीच भागीदारी से इस प्रक्रिया में मदद मिलेगी। स्वयं सहायता समूहों के बनाए ग्रामीण उत्पादों के भारत और विदेशों में लोकप्रिय होनी की अपार संभावनाएं हैं और इसे हासिल करने में ई-कॉमर्स प्लेटफार्म महत्वपूर्ण साबित होंगे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget