मुश्किल में घिरे नवाब मलिक

वानखेड़े के परिवार ने SC-ST एक्ट में की शिकायत


मुंबई

मुंबई क्रूज ड्रग्‍स केस में एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े और उनके परिवार पर तमाम आरोप लगाने वाले महराष्‍ट्र के मंत्री नवाब मलिक अब खुद ही मुश्किलों में घिरते नजर आ रहे हैं। एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े के पिता ध्यानदेव वानखेड़े ने नवाब मलिक के खिलाफ एसी-एसटी एक्ट के तहत शिकायत दर्ज कराई है। उन्‍होंने अपनी शिकायत में पुलिस से नवाब मलिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। इससे पहले वानखेड़े फैमिली ने एनसीपी के नेता नवाब मलिक पर बॉम्बे हाईकोर्ट में 100 करोड़ का मानहानि का केस किया है। जानकारी के मुताबिक, एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े के पिता ध्यानदेव के वानखेड़े ने ओशिवारा के अस्टिट कमिश्नर ऑफ पुलिस यानी सहायक पुलिस आयुक्त के पास महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत कथित तौर पर अपने परिवार की जाति के बारे में झूठे आरोप लगाने के लिए शिकायत दर्ज कराई है। वानखेड़े के परिवार ने नवाब मलिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

वानखेड़े की पत्नी, पिता ने राज्यपाल से की मुलाकात

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) की मुंबई क्षेत्रीय इकाई के निदेशक समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर और उनके पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और राज्य के मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ शिकायत दी। क्रांति ने संवाददाताओं से कहा कि मैंने अपने ससुर ज्ञानदेव वानखेड़े और ननद यास्मीन वानखेड़े के साथ राज्यपाल कोश्यारी से मुलाकात की। हमने मंत्री नवाब मलिक द्वारा हम पर लगातार जारी हमलों को लेकर शिकायत दी है। इन हमलों के कारण परिवार की प्रतिष्ठा दांव पर लग गई है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget