विदेश में कोरोना, भारत अलर्ट


वाशिंगटन

अमेरिका और यूरोप में कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए दुनिया के कई देशों ने कदम उठाने शुरू भी कर दिए हैं। चीन में भी संक्रमितों की संख्‍या में तेजी से बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। महामारी विस्‍फोटक स्‍वरूप ना लेने पाए इसलिए राष्‍ट्रपति शी चिनपिंग के प्रशासन ने कई तरह की पाबंदियां लगाई हैं। इसके साथ ही दुनियाभर में संक्रमितों की संख्‍या 25.32 करोड़ को पार कर गई है, जबकि महामारी से 51 लाख से ज्‍यादा लोग मारे गए हैं। वहीं विदेश में फिर से कोरोना वापसी को लेकर भारत सतर्क हो गया है।

ऑस्‍ट्रेलिया की सरकार ने संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सोमवार को एक अनोखा लाॅकडाउन लगाने का फैसला किया है। यह लाॅकडाउन उन लोगों के खिलाफ लगाया गया है जिन्‍होंने कोविड रोधी वैक्‍सीन नहीं लगवाई है। सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि देश में लगभग 90 लाख लोगों को अब केवल सीमित कारणों से घरों को छोड़ने की इजाजत होगी। टीका नहीं लगवाने वाले लोगों को केवल खरीदारी करने, टीकाकरण कराने और जरूरी काम के लिए ही यात्रा की इजाजत होगी।

उधर चीन ने उत्तर-पश्चिमी शहर दालियान में संक्रमण बढ़ने के बाद झुआंगे विश्वविद्यालय के 1,500 छात्रों को उनके छात्रावासों और होटलों में सीमित करने का निर्देश दिया है। विश्वविद्यालय में संक्रमण के कई मामले सामने आने के बाद यह आदेश जारी किया गया। सैकड़ों छात्रों को कुछ समय के लिए होटलों में ठहराया गया है और उनके स्‍वास्‍थ्‍य पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। ये छात्र अब आॅनलाइन कक्षाएं ले रहे हैं और अपने कमरों तक सीमित कर दिए गए हैं। चीन में एक दिन में 52 नए केस आए हैं। वहीं रूस में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 38,420 नए केस सामने आए हैं, जबकि 1,211 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही रूस में संक्रमितों का आंकड़ा 9,109,094 हो गया है, जबकि 2,56,597 लोगों की महामारी से जान जा चुकी है। विदेश में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उससे लगता है कि एक बार फिर कोराेना का खतरा बढ़ने का अंदेशा जताया जा रहा है। 

ब्रिटेन ने बढ़ाया बूस्‍टर डोज का दायरा

संक्रमण के मामलों में बढ़ोत्तरी को देखते हुए ब्रिटेन ने कोविड रोधी वैक्‍सीन के बूस्‍टर डोज का दायरा बढ़ा दिया है। अब 40 से 49 आयु वर्ग के लोग भी शुरुआती टीकाकरण के छह महीने बाद बूस्‍टर डोज लेने के पात्र होंगे। इससे पहले 50 और उससे अधिक उम्र के लोगों को ही बूस्‍टर डोज लगवाने की इजाजत थी। कंजर्वेटिव पार्टी के प्रमुख ओलिवर डाउडेन ने कहा कि हमें जरूरत के समय कोविड रोधी वैक्‍सीन की अतिरिक्त खुराक मिल जाती है तो यह कोरोना महामारी के खिलाफ हमारी सबसे मजबूत सुरक्षा होगी।

कोरोना पर सरकार सख्त

भारत ने सोमवार को कहा कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे और सिंगापुर सहित यूरोप के देशों से आने वाले यात्रियों को भारत आगमन पर अतिरिक्त उपायों का पालन करने की जरूरत होगी। इसमें भारत आने के बाद कोविड-19 टेस्टिंग भी शामिल है। इसके साथ ही अमेरिका, यूएई, कतर, फ्रांस और जर्मनी सहित 99 देशों से आने वाले उन यात्रियों को क्वारंटाइन मुक्त आगमन की इजाजत दी गई है, जिन्होंने अपना पूरा टीकाकरण करा लिया है।

यह निर्णय ऐसे समय में आया है, जबकि देश ने विदेशी पर्यटकों को गैर-चार्टर पर अनुमति दी है। भारत ने पिछले मार्च में टूरिस्ट वीजा निलंबित कर दिया था और 15 अक्टूबर से उन्हें चार्टर पर मंजूरी देकर फिर से शुरू कर दिया था। भारत के लिए प्रस्थान के 72 घंटों के भीतर एक कोविड निगेटिव रिपोर्ट के अलावा इन 99 देशों (जिन्हें श्रेणी ए कहा जाता है) के यात्रियों को भी एयर सुविधा पोर्टल पर अपना पूर्ण टीकाकरण प्रमाण पत्र अपलोड करना होगा।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget