स​दियो में जरूर करें हल्दी का सेवन


हल्दी एक ऐसा जादुई मसाला है, जो आपको कई तरह के भारतीय पकवानों में मिल जाएगा। हल्दी में पाए जाने वाले करक्यूमिन में एंटीफंगल, जीवाणुरोधी और एंटीवायरल गुण होते हैं, और यह प्राकृतिक प्रतिरक्षा बूस्टर की तरह काम करता है। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है कि हल्दी के कई स्वास्थ्य लाभ हैं, जिसमें कैंसर और अल्ज़ाइमर जैसी बीमारियों रोकना शामिल है। सिर्फ इतना ही नहीं, डाइट में हल्दी को शामिल करने से दिल का स्वास्थ्य भी बेहतर हो सकता है। अब जब सर्दियों का मौसम चुका है, हल्दी आपकी डाइट में कई तरह के लाभ पहुंचा सकती है। तो आइए जानें सर्दियों में हल्दी खाने के फायदों के बारे में

सेहत से जुड़ी दिक्कतें

हल्दी एक प्राकृतिक मसाला है, सामान्य सर्दी, साइनस, जोड़ों में दर्द, अपच, और खांसी से राहत दिलाना इसके उपचार गुणों में शामिल है। इन तकलीफों से तुरंत राहत पाने के लिए आप दूध और चाय में एक चुटकी हल्दी मिला सकते हैं। हल्दी का रोजाना सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल को भी कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है।

टॉक्सिन्स को बाहर निकालती है

छुट्टियों का मौसम एक खुशी का समय होता है, जिस दौरान हम शराब और अन्य जंक फूड्स का सेवन खूब करते हैं। जिसे ‘हॉलीडे वेट’ कहा जाता है, वह सीजन के अंत एक बीमारी का रूप भी ले सकता है। अपने लीवर के फंक्शन में सुधार करने के लिए चुटकी भर हल्दी का सेवन किया जा सकता है। हल्दी एक ऐसी एंटी-ऑक्सीडेंट है, जो शरीर को अंदर औ बाहर दोनों तरह से फायदा पहुंचाती है।

फ्लू में आराम

सर्दियों के मौसम की शुरुआत फ्लू से होती है। भारत के अधिकतर घरों में, हल्दी दूध को प्राकृतिक दवा माना जाता है। ज्यादातर प्रेग्नेंट महिलाएं भी हल्के फ्लू में हल्दी दूध का ही सहारा लेती हैं। हल्दी बैक्टीरिया के संक्रमण को खत्म करने में मदद करती है और गले की खराश से राहत दिलाती है।हल्दी एक ऐसा मसाला है, जो साल भर हर परिवार का पसंदीदा होती है। यह न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाती है, बल्कि सेहत को बेहतर भी बनाती है। हल्दी के उपचार गुणों का अध्ययन इसके रक्त को पतला करने वाले गुणों, कैंसर के जोखिम को कम करने और अल्जाइमर के इलाज के लिए किया गया था।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget