कांग्रेस के बागी नेताओं को TMC में एंट्री

कीर्ति आजाद सहित कई नेता शामिल

kirti azad

नई दिल्ली

जनता दल यूनाइटेड के पूर्व नेता पवन वर्मा के बाद पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस नेता कीर्ति आजाद उनकी पत्नी पूनम आजाद और हरियाणा कांग्रेस के पूर्व नेता अशोक तंवर भी मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस  में शामिल हो गए। 

बता दें कि टीएमसी की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे पर हैं। इस बीच ये नेता पार्टी में शामिल हुए हैं। वह 25 नवंबर तक राष्ट्रीय राजधानी में रहेंगी। टीएमसी लगातार कांग्रेस को झटका दे रही है। हाल ही में कई नेता ममता बनर्जी की अगुवाई वाली पार्टी में शामिल हुए हैं। 

पूर्व भारतीय विदेश सेवा अधिकारी पवन वर्मा ने ममता बनर्जी की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। वह जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सलाहकार रह चुके है। पवन वर्मा को साल 2020 में जेडीयू से निष्कासित कर दिया गया था। वह जुलाई 2016 तक सांसद थे। 

टीएमसी में शामिल होने के बाद पवन वर्मा ने कहा कि वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों और ममता बनर्जी की क्षमता को देखते हुए, मैं आज तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुआ हूं। वहीं पार्टी ने ट्वीट करके कहा कि पवन वर्मा का हमारे तृणमूल कांग्रेस परिवार में स्वागत करते हुए हमें बहुत खुशी हो रही है। उनका समृद्ध राजनीतिक अनुभव हमें भारत के लोगों की सेवा करने और इस देश को और भी बेहतर दिनों तक ले जाने में मदद करेगा!

टीएमसी में शामिल होने के बाद कीर्ति आजाद ने कहा कि मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि ममता बनर्जी के नेतृत्व में मैं राष्ट्र के विकास के लिए काम करूंगा। आज देश को उनके जैसे व्यक्तित्व की जरूरत है जो देश को सही दिशा दे सके। 1983 क्रिकेट विश्व कप विजेता टीम के सदस्य आजाद को दिसंबर 2015 में भाजपा से निलंबित कर दिया गया था। वह 2018 में कांग्रेस में शामिल हो गए थे। आजाद बिहार के दरभंगा से तीन बार लोकसभा के लिए चुने गए। उन्होंने 2014 का आम चुनाव भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था।

अशोक तंवर भी टीएमसी में शामिल

बता दें कि पवन वर्मा और कीर्ति आजाद के अलावा ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पार्टी में अक्टूबर 2019 में कांग्रेस छोड़कर अपनी पार्टी बनाने वाले अशोक तंवर भी शामिल हो गए हैं। वह राहुल गांधी के करीबी माने जाते थे। वह 2009-2014 के दौरान सिरसा से सांसद थे और पार्टी की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष भी थे। उन्होंने अक्टूबर 2019 में हरियाणा विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले कांग्रेस छोड़ दी थी। इस साल फरवरी में उन्होंने अपना भारत मोर्चा नाम से पार्टी बनाई थी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget